जदयू-भाजपा में सब नए चेहरे होंगे!

बिहार में जनता दल यू और भाजपा के कुल पांच राज्यसभा सांसद रिटायर हो रहे हैं और उन्हें इस बार सिर्फ तीन सीटें मिलनी हैं। इनमें से दो जदयू को और एक भाजपा को मिलेगी। रिटायर हो रहे सदस्यों पर नजर डालें तो इन दोनों पार्टियों की दुविधा समझ में आती है। भाजपा से दोनों अगड़ी जाति के नेता- सीपी ठाकुर और आरके सिन्हा रिटायर हो रहे हैं। जदयू से हरिवंश नारायण सिंह, कहकशां परवीन और रामनाथ ठाकुर रिटायर हो रहे हैं। इनमें एक सवर्ण, एक मुस्लिम और एक अतिपिछड़ी जाति के हैं। दोनों पार्टियों को तीन सीट से ऐसा ही समीकरण बना कर रखना है। सो, यह माना जा रहा है कि एक सीट सवर्ण को, एक अतिपिछड़े को और एक पिछड़ी जाति को जा सकती है।

जानकार सूत्रों के मुताबिक जदयू ने भाजपा से कहा है कि वह अपने कोटे से सवर्ण भेजे। हालांकि भाजपा की ओर से कुशवाहा नेता सम्राट चौधरी को राज्यसभा भेजे जाने की चर्चा है। अगर जदयू के दबाव में उनका नाम कटता है तो संभव है कि पार्टी देवेश कुमार को राज्यसभा भेजे। जदयू की ओर से हरिवंश का नाम तय माना जा रहा था पर अब खबर है कि नीतीश उनकी जगह किसी पिछड़े नेता को भेजेंगे। गौरतलब है कि हरिवंश राज्यसभा के उप सभापति हैं और इसी वजह से उनकी वापसी तय मानी जा रही थी पर यह भी खबर है कि भाजपा इस बार उप सभापति का पद तमिलनाडु की अपनी सहयोगी अन्ना डीएमके को दे सकती है। बहरहाल, जदयू को पिछड़ा, अति पिछड़ा और महादलित का समीकरण बनाना है। अगर भाजपा किसी पिछड़े को भेजती तो संभव था कि नीतीश कुमार इस बार केसी त्यागी को राज्यसभा भेजते।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares