nayaindia opposition leaders बड़े विपक्षी नेताओं से आमने-सामने की लड़ाई
राजरंग| नया इंडिया| opposition leaders बड़े विपक्षी नेताओं से आमने-सामने की लड़ाई

बड़े विपक्षी नेताओं से आमने-सामने की लड़ाई

assembly election bjp

भाजपा ने अगले लोकसभा चुनाव में बड़े विपक्षी नेताओं से आमने-सामने की लड़ाई बनाने की रणनीति बनाई है। भाजपा ने केंद्र सरकार को बड़े मंत्रियों को यह जिम्मा दिया है कि वे बड़े  विपक्षी नेताओं की सीटों पर डेरा डालें और प्रयास करें कि उन नेताओं को उन्हीं सीटों पर घेर कर रखा जाए ताकि वे उससे आगे की नहीं सोच सकें। पिछले दिनों अमित शाह और जेपी नड्डा ने केंद्रीय मंत्रियों के साथ एक बैठक में इस रणनीति के बारे में विस्तार से चर्चा की। इसका एक मकसद तो उन सीटों पर भाजपा की जीत का प्रयास करना है, जहां वह पहले कभी नहीं जीती है और दूसरा मकसद यह है कि विपक्ष के बड़े नेताओं को साझा रणनीति बनाने या दूसरी सीटों पर प्रचार करने की बजाय अपनी सीट पर रोका जाए।

भाजपा की इस रणनीति के तहत महाराष्ट्र में बारामती सीट पर केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण चार दिन कैंप करने वाली हैं। उनका कार्यालय चार दिन तक वहीं से चलेगा। पवार इस बात को समझ गए हैं तभी उन्होंने भी भाजपा पर तीखा हमला किया है। उन्होंने कहा है कि शिवाजी महाराज ने सीख दी है कि कभी भी दिल्ली के सामने सर नहीं झुकाना है। इस तरह उन्होंने भी आमने-सामने के मुकाबले का ऐलान कर दिया है। भाजपा सिर्फ पवार को उनकी सीट पर नहीं घेर रही है, बल्कि मुलायम सिंह यादव के परिवार की सबसे सुरक्षित सीट मैनपुरी पर भी उसकी नजर है और उत्तर प्रदेश में कांग्रेस को मिली एकमात्र रायबरेली सीट पर भी है। रायबरेली में भाजपा ने केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को प्रभारी बनाया है। मध्य प्रदेश में कांग्रेस की जीती एकमात्र सीट छिंदवाड़ा पर भी भाजपा की नजर है और वहां उसने गिरिराज सिंह को जिम्मा सौंपा है। इसी तरह उत्तर प्रदेश की सहारनपुर सीट, तेलंगाना में महबूबनगर और पश्चिम बंगाल में जाधवपुर सीट पर भी भाजपा की नजर है।

Tags :

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

17 − seventeen =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
आजम खान का अपने करीबी रहे लोगों पर तीखा प्रहार, कहा- बीजेपी के यहां पोछा लगाएंगे!
आजम खान का अपने करीबी रहे लोगों पर तीखा प्रहार, कहा- बीजेपी के यहां पोछा लगाएंगे!