कांग्रेस संसदीय नेताओं में तालमेल नहीं | coordination among leaders
राजनीति| नया इंडिया| कांग्रेस संसदीय नेताओं में तालमेल नहीं | coordination among leaders

कांग्रेस संसदीय नेताओं में तालमेल नहीं

congress

coordination among leaders : कांग्रेस पार्टी सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी है और इस नाते उसे सभी पार्टियों के साथ तालमेल बनाने का काम करना है लेकिन संसद के मौजूदा सत्र में कांग्रेस के संसदीय नेताओं के बीच आपस में ही तालमेल ( coordination among leaders ) नहीं है। कांग्रेस के शीर्ष नेताओं से लेकर ज्यादातर संसदीय नेता इजराइली सॉफ्टवेयर पेगासस से जासूसी के मामले की जांच के लिए संयुक्त संसदीय समिति बनाने की मांग कर रहे हैं तो कांग्रेस के सांसद शशि थरूर ने अलग ही राग आलापना शुरू कर दिया। उन्होंने कहा है कि वे सूचना व प्रौद्योगिकी मंत्रालय की संसदीय समिति के अध्यक्ष हैं और उस नाते इस मामले को वे संसदीय समिति की बैठक में निपटाएंगे।

यह भी पढ़ें: नौकरियों में ओबीसी की स्थिति!

शशि थरूर ने यहां तक कहा कि संयुक्त संसदीय समिति से जांच की जरूरत नहीं है वे आईटी मामलों की संसदीय समिति के अध्यक्ष के नाते इस मामले की जांच कमेटी की बैठक में कर लेंगे। उन्होंने 28 जुलाई को कमेटी की बैठक भी बुलाई है, जिसके बारे में उन्होंने मीडिया में खबर भी चलवा दी है कि उसमें गृह मंत्रालय के अधिकारियों से पूछताछ की जा सकती है। सोचें, एक तरफ दोनों सदनों के नेता और पार्टी के दूसरे बड़े नेता इस मामले की संयुक्त संसदीय समिति से जांच कराने की मांग कर रहे हैं तो दूसरी ओर थरूर ऐसी जांच को खारिज कर रहे हैं। गौरतलब है कि सोनिया गांधी ने संसद सत्र के दौरान तालमेल के लिए एक कमेटी बनाई है, जिसके सदस्यों को रोज मिलना है, क्या उस कमेटी में इस मामले पर विचार नहीं किया जाना चाहिए था!

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *