nayaindia pm narendra modi train तब पीएम नहीं जाते थे ट्रेनों को हरी झंडी दिखाने!
kishori-yojna
राजरंग| नया इंडिया| pm narendra modi train तब पीएम नहीं जाते थे ट्रेनों को हरी झंडी दिखाने!

तब पीएम नहीं जाते थे ट्रेनों को हरी झंडी दिखाने!

एक समय था, जब रेल मंत्रालय का अलग बजट होता था और हर साल आम बजट से पहले रेल मंत्री संसद में बजट पेश करते थे। तब रेल मंत्री या रेल राज्यमंत्री ही ट्रेनों को हरी झंडी दिखाने जाते थे। जब भी कोई नई ट्रेन सेवा शुरू होती थी या किसी शहर से नई ट्रेन शुरू होती तो रेल मंत्री या रेल राज्यमंत्री उसे रवाना करते थे। कई बार ऐसा भी होता था कि कोई मंत्री नहीं जाता था और स्थानीय सांसद ट्रेन को हरी झंडी दिखा कर रवाना कर देते थे। लेकिन अब प्रधानमंत्री खुद ट्रेनों को हरी झंडी दिखाने जाते हैं और आमतौर पर ऐसे मौकों पर रेल मंत्री कहीं दिखाई भी नहीं देते हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात के मोरबी में हुए बड़े पुल हादसे के एक दिन बाद सोमवार को अहमदाबाद में दो नई रेल लाइन की शुरुआत की। इतनी बड़ी घटना के बावजूद यह कार्यक्रम हुआ। इससे पहले 13 अक्टूबर को प्रधानमंत्री मोदी ने हिमाचल प्रदेश के उना और दिल्ली के बीच चलने वाली वंदे भारत ट्रेन को हरी झंडी दिखाई थी। प्रधानमंत्री द्वारा इस ट्रेन को रवाना करने के एक दिन बाद ही 15 अक्टूबर को चुनाव आयोग ने हिमाचल प्रदेश में चुनाव की घोषणा की। इससे पहले 30 सितंबर को प्रधानमंत्री मोदी ने गुजरात से मुंबई के बीच चलने वाली वंदे भारत ट्रेन को हरी झंडी दिखा कर रवाना किया था। वहां भी जल्दी ही चुनाव की घोषणा होने वाली है। सोचें, इससे पहले कितनी नई ट्रेनें शुरू हुईं? राजधानी, शताब्दी या जन शताब्दी को छोड़ दें तो पिछले 20 साल में ही संपर्क क्रांति, संपूर्ण क्रांति, गरीब रथ जैसी कई नई ट्रेनें चलीं लेकिन किसी को हरी झंडी दिखाने न अटल बिहारी वाजपेयी गए थे और मनमोहन सिंह गए।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

twenty − nineteen =

kishori-yojna
kishori-yojna
ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
मोबाइल, टीवी, इलेक्ट्रिक वाहन सस्ते होंगे
मोबाइल, टीवी, इलेक्ट्रिक वाहन सस्ते होंगे