Narendra Modi US Visit प्रतिबद्ध मीडिया ने खुद ही खोली पोल
राजनीति| नया इंडिया| Narendra Modi US Visit प्रतिबद्ध मीडिया ने खुद ही खोली पोल

प्रतिबद्ध मीडिया ने खुद ही खोली पोल

quad diplomacy India USA

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की इस बार की अमेरिका यात्रा में उत्साह नहीं दिख रहा है। न अमेरिका के अखबारों में इसकी चर्चा है और न सड़कों पर धमाल मच रहा है। हो सकता है कि प्रधानमंत्री न्यूयॉर्क पहुंचें तो वहां कुछ शोर-शराबा और भारतीय लोगों की भीड़ जुटे, लेकिन यात्रा के शुरुआती दो दिन वाशिंगटन में तो शो फीका सा रहा। प्रधानमंत्री की इस यात्रा का फीकापन देश की प्रतिबद्ध मीडिया की कवरेज में भी दिख गया। Narendra Modi US Visit

हिंदी के एक बड़े तेज चैनल की बेहद चर्चित एंकर ने गुरुवार को लाइव कार्यक्रम के दौरान अमेरिका के अखबार खोल दिए। उन्होंने लाइव चर्चा के प्रोग्राम में मौजूद मेहमानों से कहा कि वे दिखाती हैं कि प्रधानमंत्री मोदी की यात्रा को लेकर किस तरह की कवरेज हुई है। वे अखबार के पन्ने पलटती रह गईं और उनको कहीं भी खबर नहीं दिखी। फिर उन्होंने निराश होकर कहा कि शायद उप राष्ट्रपति कमला हैरिस से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मुलाकात के बाद अखबारों में कवरेज होगी। पता नहीं उन्होंने कौन सा अखबार खोला था लेकिन सोचें, दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र के प्रधानमंत्री के अमेरिका पहुंचने की खबर अखबार में नहीं थी।

Narendra Modi US Visit

Read also वाशिंगटन में मोदी की उपलब्धियाँ

आमतौर पर भारत के हिंदी पत्रकार प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति के विदेश दौरे में वहां की रंगीनियों और स्वागत, ढोल-नगाड़ों की कवरेज ज्यादा करते हैं। गंभीर कूटनीतिक बातों से ज्यादा उनका ध्यान इन बातों पर रहता है। तभी तेज चैनल की चर्चित एंकर ने प्रधानमंत्री के स्वागत में ढोल बजा रहे एक बुजुर्ग व्यक्ति से पूछ लिया कि प्रधानमंत्री मोदी की यात्रा को लेकर कैसा उत्साह है और लोग क्या सोच रहे हैं। उस ढोल वाले बुजुर्ग ने कह दिया कि उनको उत्साह का पता नहीं है क्योंकि उनको तो बुलाया गया था ढोल बजाने के लिए। ऐसा भी नहीं था कि ढोल नगाड़े वालों की भारी भीड़ थी, दो-चार लोग ही वीडियो में दिख रहे थे।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
छह दिन में नौ सैनिक शहीद
छह दिन में नौ सैनिक शहीद