nayaindia cabinet expansion in Maharashtra महाराष्ट्र में कैबिनेट विस्तार की मुश्किलें
देश | महाराष्ट्र | राजरंग| नया इंडिया| cabinet expansion in Maharashtra महाराष्ट्र में कैबिनेट विस्तार की मुश्किलें

महाराष्ट्र में कैबिनेट विस्तार की मुश्किलें

महाराष्ट्र में भाजपा ने शिव सेना के बागी नेता एकनाथ शिंदे की कमान में सरकार तो बनवा दी है लेकिन मंत्रिमंडल का विस्तार उसके लिए मुश्किल हो रहा है। मुख्यमंत्री शिंदे भी परेशान हैं तो उप मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस भी परेशान हैं। तभी कहा जा रहा है कि मंत्रिमंडल का गठन अभी थोड़े समय और टला रहेगा। जानकार सूत्रों के मुताबिक 11 जुलाई को सुप्रीम कोर्ट में होने वाली सुनवाई के नाम पर पिछले 10 दिन से विस्तार रूका हुआ है। अदालत के फैसले के बाद विस्तार होगा तब भी 10-12 मंत्री ही बनाने की चर्चा है। बताया जा रहा है कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के साथ शिंदे और फड़नवीस की मुलाकात में इस पर चर्चा हुई, जिसमें तय हुआ कि अभी भाजपा के सात-आठ और शिंदे गुट के चार-पांच मंत्री बना दिए जाएं और कैबिनेट विस्तार टाल दिया जाए।

असल में पिछले विधानसभा चुनाव में जीत कर मंत्री बनने वालों विधायकों में से एक आदित्य ठाकरे को छोड़ कर बाकी सभी शिंदे के साथ हैं और सभी फिर से मंत्री बनना चाहते हैं। दूसरी ओर भाजपा अगर तीन विधायक पर एक मंत्री बनाने के फॉर्मूले पर चलती है तब भी 13 से ज्यादा विधायक मंत्री नहीं बन पाएंगे। यह फॉर्मूला सामने आते ही शिंदे गुट के कई नेता नाराज हो गए हैं और उन्होंने दबाव बनाना शुरू कर दिया है। भाजपा नेता किरीट सोमैया ने पिछले दिनों एक ट्विट करके उद्धव ठाकरे को माफिया कहा तो शिंदे गुट के नेता इतने भड़के कि दो विधायकों ने सार्वजनिक रूप से नाराजगी जाहिर की और कहा कि कोई उद्धव ठाकरे पर हमला नहीं करेगा। यह मंत्री बनने के लिए दबाव की रणनीति का हिस्सा है। सो, अभी 10-12 मंत्री बना कर काम चलाया जाएगा। भाजपा का लक्ष्य बीएमसी चुनाव जीतना है। उस समय तक विस्तार टला रहेगा और उसके बाद कुछ भी हो, उसकी परवाह भाजपा को नहीं है।

Tags :

Leave a comment

Your email address will not be published.

5 × 1 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
गुमनाम चिट्ठी से खुला व्यापमं घोटाले का राज
गुमनाम चिट्ठी से खुला व्यापमं घोटाले का राज