arvind kejriwals punjab politics केजरीवाल की पंजाब राजनीति
राजरंग| नया इंडिया| arvind kejriwals punjab politics केजरीवाल की पंजाब राजनीति

केजरीवाल की पंजाब राजनीति

arvind kejriwal

arvind kejriwals punjab politics अरविंद केजरीवाल की राजनीति भले दिल्ली से बाहर ज्यादा सफल नहीं हुई है लेकिन वे प्रयास नहीं छोड़ते हैं। वे दिल्ली से बाहर पैर पार्टी का आधार बनाने के लिए हर तरह की कोशिश करते हैं। उनकी ताजा कोशिश पंजाब को लिए है। केजरीवाल ने अगले साल होने वाले पंजाब विधानसभा चुनावों से पहले पंजाब के रहने वाले हिंदी फिल्मों के अभिनेता और कोरोना वायरस की महामारी के दौरान गरीब लोगों के मसीहा के तौर पर उभरे सोनू सूद को दिल्ली सरकार का ब्रांड एंबेसडर बनाया है। केजरीवाल ने दिल्ली में उनको साथ बैठा कर प्रेस कांफ्रेंस की और ऐलान किया कि वे बच्चों को भविष्य के लिए तैयार करने वाली दिल्ली सरकार की योजना के ब्रांड एंबेसडर होंगे। ध्यान रहे सोनू सूद पंजाब के मोगा के रहने वाले हैं और वहां उनकी जबरदस्त लोकप्रियता है।

Read also ममता के सपनों का क्या होगा?

अरविंद केजरीवाल के इस कदम से कांग्रेस के नेता हैरान परेशान हैं क्योंकि सोनू सूद को पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टेन अमरिंदर सिंह का करीबी माना जाता है। यह भी खबर थी कि उनकी बहन मालविका सूद कांग्रेस में शामिल होंगी। कहा जा रहा था कि कांग्रेस पार्टी अगले साल होने वाले बृहन्नमुंबई महानगरपालिका यानी बीएमसी के चुनाव में सोनू सूद और मिलिंद सोमन को मेयर का चुनाव लड़ाना चाहती है। पर केजरीवाल ने पहले ही अपना दांव चल दिया। हालांकि प्रेस कांफ्रेंस में सोनू ने पंजाब में चुनाव लड़ने या किसी किस्म की राजनीतिक गतिविधि में शामिल होने से इनकार किया। पर इस बारे में पक्के तौर पर कुछ नहीं कहा जा सकता है। आम आदमी पार्टी की दिल्ली सरकार सोनू सूद के पोस्टर और उनकी प्रचार सामग्री का इस्तेमाल राष्ट्रीय मीडिया में करेगी और पूरे देश में इसका प्रचार हो तब भी हैरानी नहीं होगी। सो, प्रत्यक्ष या परोक्ष रूप से केजरीवाल उनका इस्तेमाल अगले साल के चुनाव में करेंगे।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
टकराव का नया बिंदु
टकराव का नया बिंदु