• डाउनलोड ऐप
Monday, April 19, 2021
No menu items!
spot_img

राहुल, प्रियंका के मैनेजरों से नाराजगी

Must Read

कांग्रेस पार्टी में अभी राहुल गांधी या प्रियंका गांधी वाड्रा ने पूरी तरह से कमान नहीं संभाली है पर इनके यहां प्रशासनिक सेटअप में नए वी जॉर्ज और आरके धवन बनने लगे हैं। कांग्रेस विपक्ष में है और बुरी तरह से कमजोर है इसके बावजूद राहुल व प्रियंका के मैनेजरों के तेवर ऐसे हैं, जैसे कांग्रेस देश की सरकार चला रही है। कांग्रेस के कई नेताओं ने खुलेआम इसकी शिकायत की है। बताया जा रहा है कि प्रियंका गांधी वाड्रा का कामकाज संभाल रहे संदीप सिंह से पार्टी के कई नेता नाराज हैं। संदीप सिंह ने कई नेताओं को प्रियंका से मिलने नहीं दिया।

असल में कांग्रेस का सबसे बड़ा संकट यह है कि पार्टी के राज्यों के नेता या कार्यकर्ता अपने नेता से नहीं मिल पाते हैं। पार्टी के शीर्ष नेताओं के पार्टी कार्यालय में बैठने का चलन नहीं है और जो नेता पार्टी मुख्यालय में बैठते हैं उनकी कोई हैसियत नहीं होती है। इसलिए राज्यों के नेता किसी तरह से राहुल या प्रियंका से मिलना चाहते हैं। पर वहां कई बाधाएं खड़ी कर दी गई हैं। उत्तर प्रदेश में पार्टी के कुल सात विधायक हैं, जिनमें से एक जानी-मानी विधायक प्रियंका से मिलने पहुंची तो संदीप सिंह ने उनको समय ही नहीं दिया। खबर है कि इसे लेकर दोनों के बीच बक-झक भी हुई।

उधर राहुल गांधी के यहां अगर किसी को समय चाहिए तो कनिष्क सिंह, कौशल विद्यार्थी या अलंकार सवाई में से किसी को पकड़ना होगा। यह संभव नहीं है कि पार्टी का कोई नेता सीधे राहुल गांधी के दफ्तर में फोन करे और समय मांगे और उसे समय मिल जाए। राहुल से मिलने के लिए भी नेताओं को बड़े पापड़ बेलने पड़ रहे हैं। पहले की तरह मोतीलाला वोरा, अहमद पटेल, जनार्दन द्विवेदी आदि का चैनल भी नहीं है, जिसके जरिए लोग आसानी से अपनी बात रख सकें।

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest News

मानवता या मुनाफा?

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन के सामने ये अहम सवाल मौजूद है कि वे अपने देश की कंपनियों के...

More Articles Like This