कांग्रेस के युवा नेताओं की चुप्पी!

कांग्रेस पार्टी में पिछले काफी समय से युवा यानी नई पीढ़ी बनाम पुरानी पीढ़ी का विवाद चल रहा है। राजस्थान में सचिन पायलट की बगावत के बाद एक बार फिर इस पर फोकस है। हालांकि ज्यादा समय नहीं हुआ, जब ज्योतिरादित्य सिंधिया कांग्रेस छोड़ कर गए, तब भी इस बात की चर्चा हुई थी कि ऐसा क्यों हो रहा है कि कांग्रेस के नेता एक-एक करके पार्टी छोड़ कर जा रहे हैं। हालांकि यह समझना कोई बड़ी बात नहीं है। इसका सरल जवाब है कि सत्ता की चाह में और अपनी आत्मघाती महत्वाकांक्षा में कांग्रेस के युवा नेता ऐसे कदम उठा रहे हैं।

बहरहाल, कांग्रेस छोड़ कर गए सिंधिया इन दिनों पार्टी के अनेक युवा नेताओं के प्रेरणास्रोत बने हैं। पायलट ने भी बगावत का बिगुल बजाया तो सिंधिया से मुलाकात की। इसके बाद सिंधिया ने ट्विट करके कहा कि कांग्रेस पार्टी में युवा नेताओं की कद्र नहीं है। हैरानी की बात है कि कांग्रेस के किसी युवा नेता या नई पीढ़ी के नेता ने आगे बढ़ कर इसका जवाब नहीं दिया। किसी ने नहीं कहा कि सिंधिया गलत कह रहे हैं, पार्टी युवाओं को तरजीह देती है।

सोचें, कांग्रेस ने चार महीने पहले ही दीपेंद्र हुड्डा को राज्यसभा में भेजा है। वे पिछले साल लोकसभा का चुनाव भी लड़े थे और हार गए थे। विधानसभा चुनाव में उनके पिता ने पार्टी का नेतृत्व किया और अभी वे कांग्रेस विधायक दल के नेता हैं। फिर भी दीपेंद्र हुड्डा ने सिंधिया की बात का जवाब नहीं दिया। राहुल गांधी के करीबी राजीव सातव को गुजरात का और आरपीएन सिंह को झारखंड का प्रभारी बनाया गया है पर इन दोनों ने भी सिंधिया की बात का जवाब देना जरूरी नहीं समझा।

उत्तर प्रदेश के जितिन प्रसाद, महाराष्ट्र के मिलिंद देवड़ा, केरल के हिबी इडेन, तमिलनाडु के मणिका टैगोर जैसे कई युवा नेता हैं जो सांसद रहे, मंत्री रहे या अभी सांसद हैं पर किसी ने पायलट वाले मामले में आगे बढ़ कर पार्टी का बचाव नहीं किया और सिंधिया की बात का जवाब नहीं दिया। उलटे शिव सेना छोड़ कर कांग्रेस में आने के तुरंत बाद मुंबई क्षेत्रीय कांग्रेस के अध्यक्ष रहे संजय निरूपम और तमाम तरह के आरोपों के बावजूद सिर्फ अपने पिता के नाम पर सांसद बन गए कार्ति चिदंबरम पर अपनी पार्टी को नसीहत दे रहे हैं। तभी सवाल है कि कहीं ऐसा तो नहीं है कि सारे युवा नेता इसी बहाने खुद को विक्टिम बना कर पेश कर रहे हैं?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares