nayaindia udhayanidhi to join father stalin cabinet स्टालिन ने बेटे के लिए रास्ता बनाया
kishori-yojna
राजरंग| नया इंडिया| udhayanidhi to join father stalin cabinet स्टालिन ने बेटे के लिए रास्ता बनाया

स्टालिन ने बेटे के लिए रास्ता बनाया

करुणानिधि परिवार की तीसरी पीढ़ी के लिए राजनीति का रास्ता साफ हो गया है। वैसे भी मुख्यमंत्री एमके स्टालिन के बेटे उदयनिधि स्टालिन फिल्मों के साथ साथ राजनीति में सक्रिय थे और पिछले चुनाव में उन्होंने मीडिया और प्रचार का काम संभाला था। वे पार्टी का काम भी कर रहे थे लेकिन अब स्टालिन ने उनको अपनी सरकार में मंत्री बना दिया है। इस तरह एक और ‘सनराइज’ हो गया है। तेलंगाना में पहले से मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने अपने बेटे केटी रामाराव को मंत्री बनाया हुआ है। एचडी देवगौड़ा के दोनों बेटे मुख्यमंत्री और मंत्री रह चुके हैं और अब उनके पोते भी सांसद व विधायक बन गए हैं। आंध्र प्रदेश में भी एनटी रामाराव का परिवार राजनीति में फल-फूल रहा है। उत्तर भारत के तो लगभग सभी राज्यों में नेताओं की दूसरी, तीसरी पीढ़ी राजनीति में सक्रिय है।

सो, तमिलनाडु में भी कोई नया घटनाक्रम नहीं हुआ है। एमके स्टालिन की उम्र भी 70 साल के करीब हो गई है और वे अपने उत्तराधिकार का मुद्दा उलझा कर नहीं रखना चाहते। उन्होंने देखा था कि कैसे उनके पिता करुणानिधि के सामने उनके और भाई अलागिरी के बीच खींचतान हुई थी। बड़ी मुश्किल से एमके अलागिरी पार्टी से बाहर हुए और उनका मसला सुलझा। अब कोई ऐसी चुनौती नहीं है लेकिन सबको पता है कि करुणानिधि का परिवार बहुत बड़ा है और अलागिरी से लेकर कनिमोझी और मारन परिवार तक अनेक लोग राजनीति में सक्रिय हैं। सो, परिवार की चुनौती समाप्त करने के साथ ही अपनी सरकार में मंत्री बना कर उनका राजनीतिक और प्रशासनिक प्रशिक्षण व एक्सपोजर भी सुनिश्चित कर रहे हैं। आने वाले समय में उदयनिधि स्टालिन को उप मुख्यमंत्री भी बनाया जा सकता है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

5 × 3 =

kishori-yojna
kishori-yojna
ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
सरकार छोटे किसानों के साथ मजबूती से खड़ी :राष्ट्रपति
सरकार छोटे किसानों के साथ मजबूती से खड़ी :राष्ट्रपति