up assembly election BJP यूपी में भाजपा के शीर्ष नेता डेरा डाले रहेंगे
राजरंग| नया इंडिया| up assembly election BJP यूपी में भाजपा के शीर्ष नेता डेरा डाले रहेंगे

यूपी में भाजपा के शीर्ष नेता डेरा डाले रहेंगे

यह पहली बार हुआ है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगातार तीन दिन लखनऊ में रहे। वे शुक्रवार की सुबह तीनों विवादित कानूनों को वापस लेने की घोषणा करने के बाद उत्तर प्रदेश गए थे, जहां उन्होंने महोबा और झांसी में दो कार्यक्रमों में हिस्सा लिया। उन्होंने झांसी में रानी लक्ष्मीबाई के किले से नौसेना को हेलीकॉप्टर सौंपे और उसके बाद लखनऊ लौटे और उसके बाद रविवार की शाम तक वे लखनऊ में रहे। उन्होंने तीन पूरा दिन और दो रातें उत्तर प्रदेश में बिताईं। इस दौरान केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोवाल भी लखनऊ में थे। प्रधानमंत्री ने वहां राज्यों के पुलिस महानिदेशकों और पुलिस महानिरीक्षकों की बैठक में हिस्सा लिया। उन्होंने राजभवन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से भी मुलाकात की। राजभवन के गलियारे में मुख्यमंत्री के कंधे पर हाथ रख कर बात करते हुए घूमने की उनकी फोटो भी वायरल हुई है। जाहिर है मुख्यमंत्री के साथ उन्होंने चुनावी तैयारियों पर चर्चा की होगी।

रविवार की शाम को प्रधानमंत्री मोदी लखनऊ से दिल्ली लौटे और सोमवार की सुबह पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा उत्तर प्रदेश पहुंचे। गोरखनाथ मंदिर में दर्शन करके उन्होंने अपने कार्यक्रम की शुरुआत की। गौरतलब है कि गुरुवार को दिल्ली में हुई पार्टी की बैठक में उन्होंने उत्तर प्रदेश चुनाव के लिहाज से प्रदेश को छह हिस्से में बांटा और तीन लोगों को इसका प्रभार दिया, जिसमें खुद उन्होंने गोरखपुर और कानपुर का जिम्मा अपने पास रखा। सो, दो दिन के कार्यक्रम में वे इन दोनों क्षेत्रों के पार्टी नेताओं से मिलेंगे, बूथ अध्यक्षों से बात करेंगे और चुनावी तैयारियों का जायजा लेंगे।

up assembly election Defection

Read also किसानों को भरोसा क्यों नहीं हो रहा?

पार्टी अध्यक्ष दो दिन का दौरा खत्म करके लौटेंगे और उसके एक दिन बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह लखनऊ पहुंचेंगे। उनका 25 नवंबर को लखनऊ पहुंचने का कार्यक्रम है। नड्डा ने उनको अवध और काशी क्षेत्र का प्रभार दिया है। सोचें, अवध यानी लखनऊ से राजनाथ सिंह खुद सांसद हैं और काशी यानी बनारस से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सांसद हैं। इन दो क्षेत्रों में बूथ अध्यक्षों से मुलाकात और चुनाव तैयारियों का काम राजनाथ सिंह देखेंगे। राजनाथ सिंह लौटेंगे तो अमित शाह का उत्तर प्रदेश जाने का कार्यक्रम है। वे पश्चिमी उत्तर प्रदेश और ब्रज क्षेत्र के प्रभारी हैं। कृषि कानूनों की वापसी के बाद वे जाटों को पटाने के मिशन पर निकलेंगे और उसके बाद फिर प्रधानमंत्री का कार्यक्रम होगा। यह चक्र चुनाव तक चलता रहेगा।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
Twitter का CEO भारतीय का बनना नहीं पचा पा रहा Pakistan, देखें कैसे दे रहा है Reaction…
Twitter का CEO भारतीय का बनना नहीं पचा पा रहा Pakistan, देखें कैसे दे रहा है Reaction…