अपने या बाहरी को नेता बनाएगी भाजपा? - Naya India
राजनीति| नया इंडिया|

अपने या बाहरी को नेता बनाएगी भाजपा?

पश्चिम बंगाल में नतीजे आने के बाद सरकार बन गई, विधायकों की शपथ हो गई, स्पीकर का चुनाव हो गया पर अभी तक भाजपा विधायक दल के नेता का चुनाव नहीं हुआ है। क्योंकि भाजपा को समझ में नहीं आ रहा है कि किसको नेता बनाएं। चुनाव से ठीक पहले तृणमूल कांग्रेस छोड़ कर भाजपा में शामिल हुए शुभेंदु अधिकारी भाजपा विधायक दल और विधानसभा में नेता विपक्ष पद के दावेदार बताए जा रहे हैं। लेकिन अगर भाजपा उनको नेता बनाती है तो उनसे पहले तृणमूल कांग्रेस छोड़ कर भाजपा में शामिल हुए मुकुल रॉय को कहीं और एडजस्ट करना होगा क्योंकि वे दोनों साथ काम नहीं कर सकते हैं। वैसे मुकुल रॉय भी अपनी दावेदारी किए हुए हैं लेकिन मुश्किल यह है कि वे कभी विधायक नहीं रहे हैं, जबकि शुभेंदु अधिकारी का बतौर विधायक लंबा अनुभव है और वे मुख्यमंत्री को हरा कर विधायक बने हैं। सो, उनको बनाने से विधानसभा में भाजपा मजबूत रहेगी।

शुभेंदु अधिकारी या मुकुल रॉय की बहस के बीच एक बड़ी मुश्किल राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ और भाजपा के पुराने नेताओं की है। संघ के पदाधिकारी चाहते हैं कि बाहर से आए किसी नेता की बजाय भाजपा अपने किसी पुराने नेता को विपक्ष के नेता का दर्जा दिलाए। मुश्किल यह है कि भाजपा के पास इस पद के लायक कोई पुराना नेता नहीं है। मनोज तिग्गा का नाम चर्चा में है क्योंकि वे पिछली बार भी चुनाव जीते थे। पिछली बार चुनाव जीते तीन विधायकों में से एक वे हैं। लेकिन उनका अनुभव ज्यादा नहीं है और न कद बहुत बड़ा है। इसी तरह भाजपा के पुराने नेताओं में से बंकिम घोष, नरहरि महतो और मिहिर गोस्वामी के भी नाम लिए जा रहे हैं। पर इन नेताओं का भी अनुभव और कद ज्यादा बड़ा नहीं है। भाजपा ऐसे नेता को वहां आगे करना चाहती है, जो पार्टी संगठन को मजबूती दे और आगे के लिए तैयार करे। लेकिन अगर बाहरी नेता को कमान देते हैं तो भाजपा में एक नई परंपरा शुरू होगी। इस जद्दोजहद की वजह से नेता का चुनाव अटका है।

Latest News

बच्चे पैदा करो और पैसे कमाओ! भारत के पड़ोसी देश में बच्चे के जन्म पर नकद पैसा देने का फैसला
विदेश | Dinesh Saini - July 29,2021
नई दिल्ली | लगातार बढ़ती आबादी से परेशान भारत जहां लोगों से अब एक ही बच्चा पैदा (Child Birth) करने की बात…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *