nayaindia अभिषेक बनर्जी कहां राष्ट्रीय राजनीति करेंगे? | ममता दीदी के भतीजे क्या करेंगे
राजरंग| नया इंडिया| अभिषेक बनर्जी कहां राष्ट्रीय राजनीति करेंगे? | ममता दीदी के भतीजे क्या करेंगे

ममता दीदी के भतीजे अभिषेक बनर्जी कहां राष्ट्रीय राजनीति करेंगे?

Trinamool congress Tripura election

अभिषेक बनर्जी कहां राष्ट्रीय राजनीति करेंगे : नेताओं का आत्मविश्वास अक्सर हैरान करने वाला होता है। कई बार नासमझ नेता कोई बयान देते हैं, जैसे ई श्रीधरन ने कहा कि वे केरल के मुख्यमंत्री बनेंगे, तो ऐसे बयानों की अनदेखी करनी होती है। लेकिन कई बार बहुत जानकार और सीजन्ड नेता इस तरह के बयान देते हैं। जैसे ममता बनर्जी ने कहा है कि उनकी पार्टी अब राष्ट्रीय राजनीति करेगी। उन्होंने अपने भतीजे अभिषेक बनर्जी को राष्ट्रीय महासचिव बनाया है। नई जिम्मेदारी मिलने के बाद अभिषेक ने कहा कि वे पार्टी को पूरे देश में ले जाएंगे और चुनाव लड़ेंगे। अब सोचें, अभिषेक बनर्जी पार्टी को कहां राष्ट्रीय राजनीति करेंगे? क्या वे अगले साल उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, गोवा और मणिपुर में पार्टी को चुनाव लड़ाएंगे? इससे उनको क्या हासिल होगा?

ममता ने मोदी पर किया हमला

तृणमूल कांग्रेस पहले भी इस तरह राष्ट्रीय राजनीति करने का प्रयास कर चुकी है। झारखंड में इधर-उधर के नेताओं को जुटा कर तृणमूल को खड़ा करने का प्रयास हुआ था। ममता बनर्जी भी रैली करने पहुंची थीं। लेकिन अंत नतीजा क्या हुआ? इधर-उधर से आए सारे नेता फिर इधर-उधर चले गए। बिल्कुल यहीं कहानी त्रिपुरा में भी दोहराई गई थी। ममता बनर्जी के पश्चिम बंगाल में तीसरी बार चुनाव जीत जाने के बाद भी इसमें कुछ बदलाव नहीं आया है। अब भी वे बंगाल की ही नेता हैं। इसका कारण यह है कि उन्होंने पहले कभी शरद पवार की तरह राष्ट्रीय राजनीति नहीं की है और न निजी तौर पर खुद को राष्ट्रीय नेता की तरह प्रोजेक्ट किया है। वे हमेशा बांग्ला अस्मिता के ईर्द-गिर्द राजनीति करती रहीं। इसलिए उनके लिए मुश्किल है कि पूर्वोत्तर के इक्का-दुक्का राज्यों को छोड़ कर कहीं और राजनीतिक रूप से सफल हों। अभिषेक अगर बहुत मेहनत करेंगे तो कुछ जगहों पर कांग्रेस को नुकसान पहुंचा सकते हैं, पर तृणमूल का कोई फायदा नहीं करा सकते हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

twelve + 7 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
सीबीआई के आरोपपत्र में सिसोदिया का नाम नहीं
सीबीआई के आरोपपत्र में सिसोदिया का नाम नहीं