nayaindia What is happening in Tamil Nadu तमिलनाडु में क्या हो रहा है?
राजरंग| नया इंडिया| What is happening in Tamil Nadu तमिलनाडु में क्या हो रहा है?

तमिलनाडु में क्या हो रहा है?

तमिलनाडु की राजनीति दिलचस्प होती जा रही है। राज्य की मुख्य विपक्षी अन्ना डीएमके में दोनों धड़ों- ई पलानीस्वामी और ओ पनीरससेल्वम के बीच चल रहे संघर्ष में पहला राउंड पलानीस्वामी ने जीता था। 11 जुलाई को हुई पार्टी की जनरल कौंसिल की मीटिंग में उनको अंतरिम महासचिव चुन लिया गया था। इससे पहले कोऑर्डिनेटर और ज्वाइंट कोऑर्डिनेटर का पद समाप्त कर दिया गया था। पहले दोनों के बीच समझौते के तहत ये दो पद बनाए गए थे। लेकिन पद समाप्त कर पनीरसेल्वम को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया था। राज्य के हाई कोर्ट और सुप्रीम कोर्ट से भी पनीरसेल्वम को राहत नहीं मिली थी। लेकिन अब अचानक मद्रास हाई कोर्ट ने उनको राहत दे दी है।

मद्रास हाई कोर्ट ने 11 जुलाई को हुई जनरल कौंसिल की बैठक के फैसलों पर रोक लगा दी है और 25 जून की यथास्थिति बहाल कर दी है। इसका मतलब है कि कोऑर्डिनेटर और ज्वाइंट कोऑर्डिनेटर का पद बहाल हो गया है। पनीरसेल्वम का भी पहले की तरह पार्टी में हिस्सा हो गया है। हालांकि पता नहीं यह स्थिति कब तक रहेगी लेकिन ऐसा लग रहा है कि पनीरसेल्वम को भाजपा की मदद मिल रही है। जयललिता की सहेली वीके शशिकला भी सक्रिय हैं। उनको नाराजगी तो दोनों नेताओं से है लेकिन उनकी प्राथमिकता पलानीस्वामी को कमजोर करने की है। दूसरी ओर भाजपा की योजना पनीरसेल्वम की मदद से अन्ना डीएमके के बड़े हिस्से को साथ लेकर अपने को मजबूत करने की है। सो, अगले कुछ दिन तमिलनाडु में भाजपा की राजनीति पर नजर रखने की जरूरत है।

Tags :

Leave a comment

Your email address will not be published.

three × 1 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
कांग्रेस की यही मुश्किल
कांग्रेस की यही मुश्किल