nayaindia जयशंकर के साथ क्या हो रहा है? - Naya India
राजरंग| नया इंडिया|

जयशंकर के साथ क्या हो रहा है?

भाजपा के सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री सुब्रह्मण्यम स्वामी ने ट्विट करके सवालिया लहजे में कहा कि क्या भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर को लंदन में क्वरैंटाइन कर दिया गया है? असल में जयशंकर की टीम के दो सदस्य कोरोना संक्रमित पाए गए। इसी वजह से माना जा रहा है कि भारत की पूरी टीम को क्वरैंटाइन किया गया है। पर वह एक अलग कहानी है। असली बात कोरोना के मामले में भारत सरकार की एक भी गलती नहीं मानने की जयशंकर की जिद है। वे पूरी बेशर्मी से सरकार की हर गलती का बचाव कर रहे हैं। असल में 35 साल तक सरकारी सेवा में रहने और यस सर, यस सर की ट्रेनिंग से उन्होंने वह बेशर्मी हासिल कर ली है, जिसे कोई राजनेता शायद ही हासिल कर सकता है।

तभी कोरोना वायरस से लड़ाई में भारत सरकार की जो भी कमी बताई जा रही है वे उसके बचाव का कोई न कोई तर्क खोज लेते हैं। जैसे उन्होंने कुंभ मेले का भी बचाव कर दिया। उसका बचाव भाजपा का कोई नेता नहीं कर रहा है। लेकिन जब कुंभ मेले को कोरोना का सुपर स्प्रेडर बताया गया और इंडिया इंक के मनोज लाडवा ने जयशंकर से इस बार में पूछा तो नाराज होते हुए उन्होंने किसान आंदोलन का मुद्दा उठाते हुए कहा कि आंदोलन के लिए होने वाले जमावड़े पर तो कोई  सवाल नहीं उठा रहा है और धार्मिक जमावड़े से सबको दिक्कत है। सोचें, ऐसे बेहूदा तर्क से किसी धार्मिक अखाड़े वाले ने भी कुंभ का बचाव नहीं किया था। ऑक्सीजन की कमी पर देश की सभी अदालतें सरकार की आलोचना कर रही हैं पर जयशंकर ने कहा कि सरकार ने ऑक्सीजन के लिए आकाश-पाताल एक कर दिया और इसका बंदोबस्त किया। उन्होंने वैक्सीन विदेश भेजने का भी बचाव किया और भारत को बुनियादी रूप से राजनीतिक समाज बताते हुए चुनावी रैलियों का भी बचाव किया।

Leave a comment

Your email address will not be published.

ten − 4 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
आदमपुर का उपचुनाव सबके लिए मौका
आदमपुर का उपचुनाव सबके लिए मौका