पायलट क्या जगदंबिका पाल बन पाएंगे? - Naya India
राजनीति| नया इंडिया|

पायलट क्या जगदंबिका पाल बन पाएंगे?

राजस्थान के भाजपा अध्यक्ष सतीश पूनिया ने शुक्रवार को कमाल की बात कही। उन्होंने कहा कि हालात बने तो सचिन पायलट मुख्यमंत्री बन सकते हैं। सोचें, क्या दानिशमंदी की बात कही कि हालात बने तो पायलट मुख्यमंत्री भी बन सकते हैं! हालात बने तब तो पूनिया भी मुख्यमंत्री बन सकते हैं या कोई भी मुख्यमंत्री बन सकता है। उनके कहने का असली मतलब पायलट के सामने मुख्यमंत्री पद की गाजर लटकाना था, जिसकी हकीकत पायलट भी समझ रहे हैं। अब असली सवाल यह है कि आगे वे क्या करेंगे? क्या भाजपा सक्रिय रूप से इस खेल में शामिल होगी? क्या प्रदेश भाजपा का कोई क्षत्रप आगे किया जाएगा? क्या पायलट कांग्रेस के और विधायक अपनी तरफ करने में सफल होंगे? और सबसे बड़ा सवाल यह है कि क्या वे खुद अपनी और अपने समर्थक 18 विधायकों से इस्तीफा कराने की हिम्मत रखते हैं, जैसी हिम्मत मध्य प्रदेश या कर्नाटक में कांग्रेस विधायकों ने दिखाई?

इन सब सवाल का जवाब फिलहाल तो नकारात्मक है। न तो विधायक इस्तीफा देने जा रहे हैं और न भाजपा का कोई क्षत्रप आगे आ रहा है और न कांग्रेस के अन्य विधायक टूट रहे हैं। फिर क्या होगा? फिर तो सचिन पायलट जगदंबिका पाल भी नहीं बन पाएंगे! पाल ने उत्तर प्रदेश में कांग्रेस पार्टी के विधायकों को तोड़ कर लोकतांत्रिक कांग्रेस बना ली थी, जैसे पायलट के बारे में कहा जा रहा था कि वे प्रगतिशील कांग्रेस बनाएंगे। बहरहाल, पाल के साथ पार्टी के ज्यादातर विधायक चले गए थे और वे प्रादेशिक पार्टियों से बाहर से समर्थन जुटा कर एक दिन के लिए मुख्यमंत्री बन गए थे। पायलट के लिए यह स्थिति भी मुश्किल दिख रही है क्योंकि उनके पास इतने विधायक नहीं हैं कि उन्हें अलग गुट की मान्यता मिले या वे दूसरी पार्टी में विलय करा सकें। और अगर विधायकों से इस्तीफा दिला दिया तब फिर कोई भी उन्हें क्यों मुख्यमंत्री बनवाएगा? सांप-छुछुंदर की गति या कैच-22 सिचुएशन जैसे मुहावरे ऐसे ही हालात के लिए गढ़े गए हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *