Loading... Please wait...
ताजा पोस्ट सुर्खिया
काबुल में विस्फोट, 20 मरे, 300 घायल
चैंपियंस ट्रॉफी: भारत ने बांग्लादेश को 240 रनों से हराया
यूपी में डॉक्टरों की रिटायरमेंट उम्र दो साल बढ़ी
केरल में पशु वध पर सोनिया, राहुल से माफी की मांग
आरसीए चुनाव के परिणाम दो जून को घोषित किये जाये
बाबरी मामला : आडवाणी, जोशी व अन्य को जमानत मिली
बांग्लादेश में तूफान ‘मोरा’ ने दी दस्तक
आडवाणी, जोशी कोर्ट में पेश होने के लिए लखनऊ रवाना
सीरिया में रासायनिक हथियारों का इस्तेमाल खतरे की घंटी: मैक्रोन
जापान में बस दुर्घटनाग्रस्त, 8 घायल
रूस में तूफान, 11 मरे
मोदी ने की मर्केल से मुलाकात
भारत-पाकिस्तान के बीच क्रिकेट सीरीज नहीं हो सकती: खेल मंत्री
बैल काटे जाने पर कांग्रेस के 4 कार्यकर्ता निलंबित
पीएम मोदी चार देशों की यात्रा पर रवाना

रिपोर्टर डायरी

खुद मोस्ट वांटेड बने सुहैब!

किसी भी इंसान की जिंदगी में उसके माहौल का बहुत बड़ा असर पड़ता है, यह बात फिर सही साबित हुई है। बचपन में एक कहानी पढ़ी थी कि एक पक्षी बेचने वाला अपने तोते और पढ़ें....

धूमल कैसे व क्यों बने जेटली?

गुजरात और हिमाचल प्रदेश के चुनाव नतीजे आने के बाद जब भाजपा अध्यक्ष अमित शाह प्रेस को अपने संबोधन में कह रहे थे कि इस चुनाव ने जो तीन चीजे समाप्त की है और पढ़ें....

गुजरातः थर्ड क्लास थर्ड डिवीजन!

हमारे उत्तर प्रदेश की एक खासियत यह है कि वहां अगर किसी कम शिक्षित व्यक्ति से यह पूछा जाए कि वह कितनी कक्षा पास है तो वह यह नही कहेगा कि वो आठवीं या दसवीं और पढ़ें....

सचमुच विकास खो गया

मन में गुजरात विधानसभा चुनाव के नतीजे को लेकर बहुत ज्यादा उत्सुकता नहीं थी। असल में जब नोटबंदी के बाद उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में भाजपा को बंपर और पढ़ें....

श्रुति की शादीः शादी हो तो ऐसी!

लंबी छुट्टियों के बाद पाठको के सामने पेश हो रहा हूं। इसके कई कारण रहे। पहले पत्रकारों के एक सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए इंफाल जाना पड़ा। लौटने पर और पढ़ें....

खुराफात यूं ही नहीं की जाती

जब पूरा देश पद्मावतीमय हो रहा हो तब मैं इस विषय पर अपनी कलम न घिंसू यह कैसे हो सकता है? सच्चाई यह है कि मैंने इतने दिनों तक इसके संबंध में कुछ भी इसलिए नहीं और पढ़ें....

सरकार बनाए राष्ट्रीय धरोहर कोष!

आखिर प्रियो दा यानी प्रियरंजनदास मुंशी दुनिया छोड़ गए। जो व्यक्ति जीवन भर बेहद जुझारू जिंदगी जीता आया हो उसका इस तरह से लगभग एक दशक तक गुमनामी की जिदंगी और पढ़ें....

खुराफात की इंतहा

शायद सिन्हा सरनेम की यह खासियत ही है कि जिसके नाम के साथ जुड़ जाता है वे लोग हमेशा कोई-न-कोई विवाद खड़ा करके खबरों में बने रहते हैं। यह विवाद निजी भी हो और पढ़ें....

अपनो ने ही तख्ता पलटा मुगाबे का

अपना मानना रहा है कि शरीर से आत्मा, पर्स से पैसे व सत्ता से नेता बहुत मुश्किल से निकलते हैं। जिंबाब्वे के शासक राष्ट्रपति राबर्ट मुगाबे इसका जीता-जागता और पढ़ें....

कहां है मोती की पोती?

जब रविवार को अखबार खोले तो एक ओर इंदिरा गांधी की जन्मशती पर उन्हें याद करता हुआ कांग्रेस का विज्ञापन नजर आया जो कि आधे पेज का था जबकि उसके पिछले पेज पर और पढ़ें....

← Previous 123456789
(Displaying 1-10 of 230)

© 2016 nayaindia digital pvt.ltd.
Maintained by Netleon Technologies Pvt Ltd