nayaindia नहीं रहे भारत के स्वर्ण विजेता बाॅक्सर ‘डिंको सिंह’, 42 साल की उम्र में दुनिया का कहा अलविदा - Naya India
खेल समाचार | ताजा पोस्ट| नया इंडिया|

नहीं रहे भारत के स्वर्ण विजेता बाॅक्सर ‘डिंको सिंह’, 42 साल की उम्र में दुनिया का कहा अलविदा

नई दिल्ली। भारत को एशियाई खेलों (Asian Games) में स्वर्ण पदक दिलाने वाले सर्वश्रेष्ठ मुक्केबाज (Gold Medallist Boxer) डिंको सिंह (Dingko Singh) का आज गुरूवार को निधन हो गया है। 42 साल के डिंको सिंह काफी समय से कैंसर से जूझ रहे थे। उन्हें यकृत के कैंसर था। डिंको सिंह ने एशियाई खेलों में देश को मुक्केबाजी में सर्वश्रष्ठ प्रदर्शन कर स्वर्ण पदक दिलाए थे। बता दें कि डिंको सिंह कैंसर से पीड़ित होने के अलावा पिछले साल कोविड-19 से भी संक्रमित हो गए थे। डिंको सिंह के निधन पर कई नेताओं और खिलाडियों ने शोक व्यक्त किया है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने डिंको सिंह के निधन पर दुख जताया है।

ये भी पढ़ें:- COVID-19 Update: देश में 6148 मरीजों की मौत ने फिर चौंकाया, 24 घंटे में सामने आए 94,052 नए मामले

अर्जुन और पदम श्री से हुए सम्मानित
डिंको सिंह को 1998 में अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। खेलों में उनके योगदान के लिये उन्हें 2013 में पदम श्री से भी सम्मानित किया गया था। नौसेना में काम करने वाले डिंको मुक्केबाजी से संन्यास लेने के बाद कोच बन गये थे। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने डिंको सिंह के निधन पर दुख व्यक्त करते हुए ट्विट किया है।

विजेंदर सिंह ने किया शोक व्यक्त
मुक्केबाजी भारत के पहले ओलंपिक पदक विजेता विजेंदर सिंह (Vijender Singh) ने डिंको सिंह के निधन पर दुख जताते हुए ट्वीट किया है कि, इस क्षति पर मेरी हार्दिक संवेदना। उनका जीवन और संघर्ष हमेशा भावी पीढ़ियों के लिये प्रेरणास्रोत रहेगा। मैं ईश्वर से प्रार्थना करता हूं कि शोक संतप्त परिवार को दुख और शोक की इस घड़ी से उबरने के लिये शक्ति प्रदान करे।

ये भी पढ़ें:-  बाबा के बदले सुर! रामदेव ने इमरजेंसी में एलोपैथी को बताया श्रेष्ठ, कहा- मैं भी लगवाउंगा Corona Vaccine

खेल मंत्री ने लिखा
वहीं डिंको सिंह के निधन पर खेल मंत्री कीरेन रीजीजू ने शोक जताते हुए लिखा है कि, मैं श्री डिंको सिंह के निधन से बहुत दुखी हूं। वह भारत के सर्वश्रेष्ठ मुक्केबाजों में से एक थे। डिंको के 1998 बैंकाक एशियाई खेलों में जीते गये स्वर्ण पदक ने भारत में मुक्केबाजी क्रांति को जन्म दिया। मैं शोक संतप्त परिवार के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करे।

ये भी पढ़ें:-  Covid 19 India Death Record : 6 हजार 148 मौत के साथ सबसे घातक 9 June, पूरी दुनिया में एक दिन में सर्वाधिक मौतों का रिकार्ड अब भारत के नाम

Leave a comment

Your email address will not be published.

eight + 2 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
ऑपरेशन लोटस का प्रचार करते रहेंगे केजरीवाल
ऑपरेशन लोटस का प्रचार करते रहेंगे केजरीवाल