कोरोना का टी-20 विश्व कप पर भी पड़ सकता है प्रभाव

नई दिल्ली। वैश्विक महामारी बन चुके कोरोना वायरस के कारण खेल जगत पर गहरा प्रभाव पड़ा है और ऐसे में इस वर्ष ऑस्ट्रेलिया में होने वाले आईसीसी टी-20 विश्व कप पर भी इसका असर पड़ सकता है।

आईसीसी टी-20 विश्व कप का आयोजन 24 अक्टूबर से 15 नवंबर तक ऑस्ट्रेलिया में होना है लेकिन कोरोना के कारण इस पर प्रभाव पड़ सकता है।

कोरोना वायरस के कारण क्रिकेट सहित विभिन्न खेलों को स्थगित किया गया है और हाल ही में टोक्यो में होने वाले ओलंपिक खेलों को भी अगले साल तक के लिए स्थगित कर दिया गया था। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) कोरोना के संकट के बीच टी-20 विश्वकप को लेकर दूसरे विकलपों पर विचार कर रही है।

आईसीसी ने अभी तक विश्वकप को रद्द करने के बारे में विचार नहीं किया है लेकिन अगर इस वर्ष यह टूर्नामेंट नहीं हो पाया तो इसे 2021 में कराया जा सकता है तथा 2021 में भारत में होने वाले टी-20विश्वकप को अक्टूबर 2022 तक स्थगित किया जा सकता है।

इसे भी पढ़ें :- ओलम्पिक स्थगित होने से नरसिंह के लिए खुला रास्ता

इस बीच क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के मुख्य कार्यकारी केविन रॉबर्ट को उम्मीद है कि टी-20 विश्वकप अपने निर्धारित समय पर ही होगा। लेकिन अगर ऐसा नहीं हो पाता है तो आयोजकों के लिए सबसे बड़ी चुनौती स्टेडियम को लेकर होगी। ऑस्ट्रेलिया को टी-20 विश्वकप के बाद नवंबर में अफगानिस्तान के खिलाफ एक टेस्ट मैच खेलना है और भारत के खिलाफ चार टेस्ट और तीन वनडे मैच खेलने हैं।

अगर आईसीसी टी-20 विश्वकप को स्थगित करता है तो आगे के कार्यक्रम में भी बदलाव करना होगा। इस वर्ष एक मई से 31 मार्च 2022 तक क्रिकेट विश्वकप सुपर लीग होना है जो 2023 विश्वकप का क्वालीफिकेशन भी है। इसमें 13 टीमें हिस्सा लेंगी जिन्हें दो साल में घर और बाहर आठ सीरीज खेलनी है।

प्रायोजकों को यह तय करना है कि इसे रद्द करना है या सीरीज में कटौती करनी है। हालांकि अभी तक आईसीसी ने इस संबंध में कोई फैसला नहीं लिया है लेकिन ऐसा माना जा रहा है कि आईसीसी की आठ से 10 मई तक होने वाली बैठक में इस बारे में कोई फैसला लिया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares