Corona's entry in the Olympics : टोक्यो ओलंपिक में कोरोना ने मारी एंट्री, खेल गांव में कोरोना का पहला मामला, टोक्यो में लागू है आपातकाल..
खेल समाचार | टोक्यो ओलंपिक्स | ताजा पोस्ट| नया इंडिया| Corona's entry in the Olympics : टोक्यो ओलंपिक में कोरोना ने मारी एंट्री, खेल गांव में कोरोना का पहला मामला, टोक्यो में लागू है आपातकाल..

टोक्यो ओलंपिक में कोरोना ने मारी एंट्री, खेल गांव में कोरोना का पहला मामला, टोक्यो में लागू है आपातकाल..

silver medalist title

कोरोना के बढ़ते मामलों के साथ कोरोना वायरस ने टोक्यो ओलंपिक में भी एंट्री मार ही ली है। टोक्यो ओलंपिक के खेल गांव में कोविड-19 का पहला मामला सामने आया है। टोक्यो ओलंपिक का आगाज 23 जुलाई से होने जा रहा है। ( Corona’s entry in the Olympics ) जो 8 अगस्त तक चलेगा। टोक्यो ओलंपिक के आयोजकों ने कोरोना से संक्रमित अधिकारी को 14 दिनों के लिए क्वारंटीन कर दिया है। दो दिन पहले जापान में मौजूद एक खिलाड़ी और पांच कर्मचारी कोरोना संक्रमित पाए गए थे। वहीं ब्राजील की जुडो टीम जिस होटल में ठहरी है, उसके आठ कर्मचारी संक्रमित मिले हैं। टोक्यों में लगातार पिछले एक महीने से कोरोना वायरस के मामले बढ़ रहे हैं. 15 जुलाई को टोक्यों में कोरोना वायरस के 1308 मामले सामने आए थे। बढ़ते हुए मामलों के कारण टोक्यो में फिलहाल आपातकाल लगाया हुआ है।

Corona's entry in the Olympics

also read: फैबियन एलन ने पकड़ा ऑस्ट्रेलियाई कप्तान का करिश्माई कैच, यकीन करना मुश्किल – देखें VIDEO

22 अगस्त तक लागू रहेगा आपातकाल ( Corona’s entry in the Olympics )

बता दें कि कुछ दिनों पहले ही जापान की राजधानी टोक्यो में कोरोना के मामले फिर से बढ़ने लगे थे। इस डर को देखते हुए और हालात को काबू में लेने के लिए टोक्यो में आपातकाल घोषित कर दिया गया। यह आपातकाल छह सप्ताह तक लागू किया गया है जो 22 अगस्त तक लागू रहेगा। कोरोना महामारी आने के बाद जापान में चौथी बार आपातकाल लगाया गया है। ( Corona’s entry in the Olympics )आपातकाल की अवधि में पार्क, संग्रहालय, थिएटर और अधिकांश दुकानें एवं रेस्तरां को रात 8 बजे बंद करने का अनुरोध किया गया है। और जनता को भी इसका पालन करने को कहा है।

खिलाड़ियों के हर दिन कोरोना की जांच होगी

बता दें कि 13 जुलाई को ओलंपिक गांव खोला गया था। कोरोना संक्रमित आने के बाद से गांव में सभी खिलाड़ियों की प्रतिदिन कोरोना की जांच होगी। खिलाड़ियों को कोरोना की दो जांच रिपोर्ट के साथ जापान पहुंचना होगा और यहां पहुंचने पर उनकी एक और जांच होगी। खिलाड़ियों के लिए गांव में मास्क पहनना अनिवार्य होगा। भले ही खिलाड़ियों ने टीका लगाया गया हो। ( Corona’s entry in the Olympics ) उन्हें कमरे में संकेतों के साथ सामाजिक दूरी, हाथ धोने जैसे चीजों के बारे में लगातार याद दिलाया जाएगा। खिलाड़ी किसी भी प्रकार की कोई लापरवाही नहीं कर सकेंगे। ओलंपिक के लिए लगभग 11,000 और 24 अगस्त से शुरू होने वाले पैरालंपिक के लिए लगभग 4,400 एथलीटों के आने की उम्मीद है। अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति ने कहा है कि गांव में आने वाले लगभग 80% से अधिक लोगों को टीके का दोनों डोज लग चुके हैं।

Corona's entry in the Olympics

खिलाड़ी खुद ही अपने गले में डालेंगे पदक ( Corona’s entry in the Olympics )

कोरोना की भयावहता को देखते हुए इस बार टोक्यो ओलंपिक में अहम कदम उठाया गया है। टोक्यो ओलंपिक समिति के अध्यक्ष ने यह फैसला लिया है कि इस बार खिलाड़ियों के पदक को गले में डालकर नहीं दिया जायेगा। ( Corona’s entry in the Olympics ) पूरे समारोह में कोई भी किसी से हाथ नहीं मिलाेगा और ना ही किसी को गले लगाएगा। खिलाड़ियों के विजयी होने पर कोी गले नहीं लगाएगा और ना ही हाथ मिलाएगा। पदक खिलाड़ी को ट्रे में पेश किये जायेंगे और फिर एथलीट पदक लेकर खुद अपने गले में डालेंगे। साथ ही यह सुनिश्चित किया जायेगा कि जो भी व्यक्ति ट्रे में पदक रखेगा, वह कीटाणुरहित दस्ताने पहनकर ही इन्हें ट्रे में रखेगा ताकि सुनिश्चित हो कि किसी ने भी पदकों को छुआ नहीं हो

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow