nayaindia Ejaz Patel First Interview : चमत्कारी पदर्षण की बाद कहा- मेरी किस्मत में...
खेल समाचार| नया इंडिया| Ejaz Patel First Interview : चमत्कारी पदर्षण की बाद कहा- मेरी किस्मत में...

Ejaz Patel First Interview : मुंबई में जन्मे एजाज पटेल ने चमत्कारी पदर्षण की बाद कहा- मेरी किस्मत में…

Ejaz Patel First Interview :

मुंबई | Ejaz Patel First Interview : भारत और न्यूजीलैंड के बीच हो रहे मैच से ज्यादा लोगों को अब एजाज पटेल के प्रदर्शन में दिलचस्पी हो गई है. हालांकि देखा जाए तो भारत यह मैच अपने चंगुल में ले चुका है और संभवत आसानी से जीत भी लेगा. लेकिन एजाज पटेल ने जो कारनामा करके दिखाया है वह कई दशकों में नहीं हो पाता. इसके पहले अब तक ऐसा कारनामा सिर्फ 2 खिलाडी कर चुके थे. बता दें कि एजाज में अकेले 10 विकेट लेकर भारतीय टीम की पहली पारी को पवेलियन भेजा. हालांकि भारतीय टीम के गेंदबाजों ने भी उसका मुंहतोड़ जवाब दिया और न्यूजीलैंड की टीम को मात्र 62 रनों में चलता कर दिया.

मुंबई में ही ऐसा करना लिखा था

Ejaz Patel First Interview : बता दें कि एजाज पटेल भारतीय मूल के हैं और उनका जन्म मुंबई में ही हुआ था. 33 साल की पटेल अब न्यूजीलैंड की ओर से क्रिकेट खेल रहे हैं क्योंकि 7 साल की उम्र में वह अपना देश छोड़ न्यूजीलैंड चले गए थे. चमत्कारी प्रदर्शन के बाद एजाज पटेल ने कहा कि यह मेरी किस्मत में था कि मैं मुंबई में ही ऐसा कुछ करूं. पटेल ने कहा कि ईमानदारी से कहूं तो यह किसी सपने की तरह है क्यों किया करना सच में बहुत विशेष है. उन्होंने कहा कि शायद ही कोई गेंदबाज होगा जिसमें सोचा होगा कि वह ऐसा कारनामा करेगा.

इसे भी पढ़ें-एजाज पटेल के 10 विकेट लेने के बाद अश्विन का वीडियो हुआ वायरल, BCCI ऩे भी किया ट्रवीट…

10वें विकेट के लिए उत्साहित थे

Ejaz Patel First Interview : एजाज ने कहा कि 9 विकेट लेने के बाद में थोड़ा उत्साहित जरूर हो गया था. उन्होंने कहा कि पहले के 9 विकेट तक तो सब कुछ सामान्य था. लेकिन जब मैं इस उपलब्धि के करीब पहुंचा तो थोड़ा उत्साहित हो गया था. अजाज पटेल ने बताया कि सभी खिलाड़ियों ने कहा कि आप कर सकते हो और सामान्य गेंदबाजी करो यह संभव है. जिसके बाद मैंने फिर से सही गेम नहीं डालनी शुरू की और मुझे यह सफलता है. इस कारनामे के बाद अपने परिवार को याद करते हुए कहा कि काश कोरोना ना होता और वह भी मेरे साथ होते.

इसे भी पढ़ें-Uttar Pradesh : ओमीक्रॉन,लोगों की पीड़ा और मौत देख डिप्रेशन में था डॉक्टर, बेटे की छाती पर बैठकर घोट दिया गला…

Leave a comment

Your email address will not be published.

1 × five =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
नासा का पृथ्वी बचाने का मिशन सफल
नासा का पृथ्वी बचाने का मिशन सफल