हरमनप्रीत के खेल से प्रेरणा मिलती : संजय

नई दिल्ली। भारतीय पुरुष जूनियर हॉकी टीम के डिफेंडर संजय ने कहा है कि उन्हें भारतीय सीनियर हॉकी टीम के डिफेंडर हरमनप्रीत सिंह के हालिया प्रदर्शन से काफी कुछ सीखने को मिला और उनके खेल को देखना हमेशा से अद्भुत रहा है।

पिछले वर्ष सुल्तान जोहोर टूर्नामेंट में रजत पदक जीतने वाली भारतीय हॉकी टीम के उपकप्तान रहे संजय ने कहा, हरमनप्रीत को खेलते देखना हमेशा से अद्भुत रहा है।

उन्होंने हाल के समय में भारत की कई जीत में बड़ा योगदान दिया है। वह मैचों के दौरान अपनी ऊर्जा का सही इस्तेमाल करते हैं और मैदान के बड़े हिस्से को कवर कर मिडफील्डर्स और डिफेंडरों के बीच एक बड़ा पुल बनते हैं। उन्होंने कई गोल भी दागे हैं, जिससे स्पष्ट है कि उनका ध्यान केवल डिफेंस पर केंद्रित नहीं है।

अक्टूबर 2017 से अबतक भारतीय जूनियर हॉकी टीम के लिए 31 मैच खेल चुके 19 वर्षीय संजय ने कहा,हम सभी अपने प्रदर्शन को बड़े टूर्नामेंट में किए प्रदर्शन के आधार पर आंकते हैं। मैं पिछले कुछ वर्षों में टीम की सफलता में योगदान देकर खुद को बहुत भाग्यशाली मानता हूं। सुल्तान जोहोर कप 2017 मेरा पहला अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट था और हमने वहां कांस्य पदक जीता था। और फिर हम तीसरे युवा ओलंपिक खेल 2018 में रजत पदक हासिल करने में सफल रहे।

यह मेरे जूनियर अंतरराष्ट्रीय करियर की शानदार शुरुआत है और मुझे उम्मीद है कि भविष्य में कई और मैच खेलने को मिलेंगे। संजय ने अपने सबसे बड़े लक्ष्य के बारे में कहा, मैं जूनियर स्तर पर अपने प्रदर्शन को लेकर खुश हूं लेकिन मैं निश्चित रूप से अपने खेल को अगले स्तर पर ले जाना चाहता हूं और उम्मीद है कि एक दिन मुझे भारतीय सीनियर टीम की ओर से भी खेलने का मौका मिलेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares