खेल समाचार

Olympic qualifier world relay में भाग नहीं ले पाएंगे भारतीय एथलीट, नीदरलैंडस जाने वाली उड़ानों पर लगा प्रतिबंध

New Delhi | नीदरलैंडस (Netherland) की सरकार ने भारत (India) से आने वाले उड़ानों पर प्रतिबंध लगा दिया है, जिसके कारण अब भारतीय एथलीटों की टीम पोलैंड (Poland) में एक और दो मई को होने वाली ओलंपिक क्वालीफाईंग (Olympic qualifying) विश्व एथलेटिक्स रिले में भाग नहीं ले पाएगी। भारतीय एथलीट टीम को ओलंपिक क्वालीफायर विश्व रिले (Olympic qualifier world relay) में भाग लेने के लिए एम्सटर्डम रवाना होना था, लेकिन India में Kovid-19 के बढ़ते मामलों के कारण रॉयल डच एयरलाइन्स (KLM) ने भारतीय उड़ानों पर प्रतिबंध लगा दिया है।

India की महिला चार गुणा 100 मीटर और पुरुष चार गुणा 400 मीटर दौड़ रिले टीमों को एक और दो मई को पोलैंड (Poland) में होने वाले विश्व रिले में भाग लेने के लिए एम्सटर्डम के रास्ते पोलैंड (Poland) रवाना था। KLM ने भारतीय एथलेटिक्स महासंघ (AFI) को बताया था कि भारत में बढ़ते कोरोना के मामले के कारण नीदरलैंडस की सरकार ने मुंबई से आने वाली उड़ानों पर प्रतिबंध लगा दिया है, इसलिए भारतीय एथलीट (Indian athletes) यात्रा नहीं कर सकते।

AFI अध्यक्ष आदिले सुमरिवाला (Adile Sumariwala) ने कहा, हम इस समय बहुत निराश हैं। India से पोलैंड (Poland) के बीच कोई सीधी उड़ान नहीं है। कई प्रयासों के बावजूद दूसरी उड़ान से टीम को भेजा नहीं जा सकता। पिछले 24 घंटे से हम विकल्प तलाश रहे हैं। आयोजकों, विश्व एथलेटिक्स (World Athletics), विभिन्न वाणिज्य दूतावासों से लगातार बात कर रहे हैं। लेकिन कहीं से कुछ नहीं हो सका।

इसे भी पढ़ें :-Corona Crisis:पीएम मोदी ने सेना प्रमुख से मुलाकात कर ली चलाए जा रहे अभियानों की जानकारी

महिला टीम में हिमा दास (Hima Das) और दुती चंद (Duti Chand) के अलावा एस धनलक्ष्मी (S Dhanalakshmi), अर्चना सुसींद्रन (Archana Susindran), हिमाश्री रॉय(Himashree Roy) और ए टी दानेश्वरी(AT Daneshwari) शामिल थीं। भारत को चार गुणा 400 मीटर पुरुष रिले में भी भाग लेना था।

इसे भी पढ़ें :-Mumbai Cricket Association : Coronavirus के कारण मुंबई टी-20 लीग स्थगित

Latest News

Bengal Politics : राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने 48 घंटों में दूसरी बार की अमित शाह से मुलाकात, कहा- आजादी का बाद ऐसे कभी नहीं हुए हालात
नई दिल्ली | राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने पिछले 48 घंटों में दूसरी बार गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की है. मुलाकात…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ताजा पोस्ट | देश | पश्चिम बंगाल | राजनीति

Bengal Politics : राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने 48 घंटों में दूसरी बार की अमित शाह से मुलाकात, कहा- आजादी का बाद ऐसे कभी नहीं हुए हालात

नई दिल्ली | राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने पिछले 48 घंटों में दूसरी बार गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की है. मुलाकात के बाद राज्यपाल ने एक बार फिर से ममता बनर्जी पर हमला किया है. मुलाकात के बाद लौटते हुए धनखड़ ने कहा है कि बंगाल विधानसभा चुनाव के बाद जिस तरह से यहां हिंसा बढ़ी है ऐसा आजादी के पहले ही देखा गया था. राज्यपाल ने कहा कि यह समय देश के संविधान, लोकतंत्र और कानून व्यवस्था पर विश्वास करने का है. बंगाल की कानून व्यवस्था पर बोलते हुए धनखड़ ने कहा कि मैं निजी तौर पर बंगाल के नौकरशाहों और पुलिस कर्मियों से अपील करना चाहता हूं कि वह आचार संहिता और नियमों के दायरे में रहें.

दूसरी बार अमित शाह से मुलाकात

बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ दिल्ली के दौरे पर हैं. पहले से तय किए गए कार्यक्रम के अनुसार गुरुवार को धनखड़ को वापस बंगाल लौट जाना था. लेकिन वे बंगाल नहीं लौटे और आज एक बार फिर गृह मंत्री मंत्री अमित शाह से मुलाकात की. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार राज्यपाल ने राष्ट्रपति और गृह मंत्री मंत्री को बंगाल में कानून की मौजूदा व्यवस्था पर रिपोर्ट सौंपकर हस्तक्षेप करने का अनुरोध किया है. अमित शाह के साथ धनखड़ में बंगाल कांग्रेस अध्यक्ष अधीर रंजन चौधरी से भी मुलाकात की है. अमित शाह से दो बार हुई मुलाकात को लेकर मीडिया में चर्चाओं का बाजार गर्म है.

इसे भी पढ़ें-  Uttar pradesh: दस्तावेजों की जांच में पाए गये 50 से ज्यादा फर्जी शिक्षक, अब केस दर्ज करने के साथ ली गई सैलरी भी वापस लेगी योगी सरकार

TMC ने राज्यपाल के दिल्ली दौरे पर उठाए थे सवाल

टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी को राज्यपाल का यह दिल्ली दौरा बिल्कुल भी रास नहीं आ रहा है. उन्होंने पहले ही राज्यपाल के दिल्ली दौरे पर सवाल खड़े किए थे. दूसरी ओर बंगाल बीजेपी लगातार टीएमसी पर राज्य में हिंसा फैलाने के आरोप लगा रही है. वही बंगाल भाजपा का कहना है कि राज्यपाल का दिल्ली गौरव कोई बड़ी बात नहीं है. बंगाल के भाजपा नेताओं का कहना है कि दिल्ली में राष्ट्रपति और केंद्रीय गृह मंत्री को बंगाल के मौजूदा हालात पर रिपोर्ट देना राज्यपाल का हक भी है और जिम्मेवारी भी.

इसे भी पढ़ें-  AIMIM के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने पूर्व गृह मंत्री पी चिदंबरम को घेरा, कहा- कांग्रेस ही लायी थी दमनकारी कानून

Latest News

aaRIP Milkha Singh : ‘फ्लाइंग सिख’ ने दुनिया को कहा अलविदा, प्रधानमंत्री-राष्ट्रपति ने जताया शोक
नई दिल्ली | Milkha Singh Passed Away: भारत के महान फर्राटा धावक (Sprinter) मिल्खा सिंह (Milkha Singh) का शुक्रवार रात 11ः30 बजे…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading next news