लीस्टर की बड़ी हार से चैंपियन्स लीग की उम्मीदों को लगा झटका

लंदन। पिछले साल सितंबर से ही शीर्ष चार में चल रहे लीस्टर सिटी की इंग्लिश प्रीमियर लीग फुटबॉल प्रतियोगिता में बोर्नमाउथ के हाथों 4-1 से करारी हार से चैंपियन्स लीग में जगह बनाने की उम्मीदों को करारा झटका लगा है। बोर्नमाउथ पर दूसरी डिवीजन में खिसकने का खतरा मंडरा रहा है लेकिन इस जीत से उसने शीर्ष डिवीजन में बने रहने की उम्मीदें बरकरार रखी।

लीस्टर ने जेमी वार्डी के 23वें मिनट में किये गये गोल से बढ़त बनायी लेकिन बोर्नमाउथ ने दूसरे हाफ में शानदार वापसी की। उसकी तरफ से डोमिनिक सोलांके (67वें और 87वें मिनट) ने दो जबकि जूनियर स्टेनिसलास ने 66वें मिनट में पेनल्टी पर बराबरी का गोल किया था। जॉनी इवान्स के 83वें मिनट में किये गये आत्मघाती गोल से भी लीस्टर को नुकसान पहुंचा।

लीस्टर ने कोरोना वायरस महामारी के कारण लंबे विश्राम के बाद लीग की वापसी पर जो छह मैच खेले उनमें से केवल एक में जीत दर्ज की। इन मैचों में उसने छह अंक हासिल किये और वह तीसरे से चौथे स्थान पर खिसक गया। उसके कोच ब्रेंडन रोजर्स ने बोर्नमाउथ के हाथों हार के बाद अपने प्रशंसकों से माफी भी मांगी।

अगर मैनचेस्टर यूनाईटेड अगले मैच में साउथम्पटन को हरा देता है तो लीस्टर पांचवें स्थान पर खिसक जाएगा। अगर दूसरे स्थान पर चल रहे मैनचेस्टर सिटी पर से यूरोपीय लीग में खेलने का दो साल का प्रतिबंध नहीं हटता तो पांचवें स्थान की टीम भी चैंपियन्स लीग में जगह बना देगी।
वॉल्वरहैम्पटन भी पांचवें स्थान पर पहुंचने की कोशिश में लगा है। उसने रविवार को एवर्टन को 3-0 से हराया जिससे वह यूनाईटेड से अब केवल तीन अंक पीछे रह गया है।

आर्सनल और टोटेनहैम यूरोपा लीग में जगह बनाने की दौड़ से भी बाहर निकलने की स्थिति में दिख रहे हैं। टोटेनहैम ने हालांकि आर्सनल को 4-1 से हराकर आठवें स्थान पर अपनी स्थिति कुछ मजबूत की है लेकिन शैफील्ड यूनाईटेड इन दोनों से आगे सातवें स्थान पर है। इस बीच एस्टन विल्ला ने क्रिस्टल पैलेस को 2-0 से हराकर शीर्ष लीग में बने रहने की अपनी उम्मीदों को जीवंत रखा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares