मैनचेस्टर टी-20: मोइन की मेहनत बर्बाद, पाक ने ड्रॉ कराई सीरीज

मैनचेस्टर। मोइन अली की अहम समय पर खेली गई 66 रनों की पारी इंग्लैंड को मंगलवार देर रात खेले गए तीसरे और आखिरी टी-20 मैच में जीत नहीं दिला सकी और पाकिस्तान ने यह मैच पांच रनों से अपने नाम कर तीन मैचों की सीरीज 1-1 से ड्रॉ कर ली।

सीरीज का पहला मैच बारिश के कारण रद्द हो गया था जबकि दूसरे मैच में इंग्लैंड ने जीत हासिल की थी। पाकिस्तान ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवरों में चार विकेट के नुकसान पर 190 रन बनाए। उसके लिए एक बार फिर अनुभवी बल्लेबाज मोहम्मद हफीज का बल्ला चला जिन्होंने नाबाद 86 रनों की पारी खेली।

पदार्पण कर रहे हैदर अली ने भी 54 रन बनाए और हफीज के साथ 100 रनों की साझेदारी की। इंग्लैंड हालांकि पाकिस्तान द्वारा रखे गए लक्ष्य को हासिल नहीं कर सकी और आठ विकेट के नुकसान पर 185 रन ही बना सकी। मेजबान टीम की शुरुआत ही खराब रही थी। जॉनी बेयरस्टो को शाहीन शाह अफरीदी ने बिना खाता खोले पवेलियन भेज दिया। डेविड मलान भी सात रन बनाकर आउट हो गए। कप्तान इयोन मोर्गन (10) 64 के कुल स्कोर पर रन आउट हुए। अभी तक एक छोर पर खड़े हुए सलामी बल्लेबाज टॉम बेंटन (46) 69 के कुल स्कोर पर हरिस राउफ का शिकार बने।

यहां से इंग्लैंड परेशानी में थी और लगातार विकेट खो रही थी लेकिन मोइन ने टीम की उम्मीदों को जिंदा रखा था। आखिरी दो ओवरों में टीम को 20 रनों की जरूरत थी। वहाब रियाज ने 19वें ओवर में सिर्फ तीन रन दिए और इसी ओवर में मोइन का विकेट भी ले लिया। मोइन ने 33 गेंदों पर चार चौके और चार छक्के लगाए। आखिरी ओवर में इंग्लैंड जरूरी रन नहीं बना सकी और मैच हार गई।

इससे पहले पाकिस्तान को भी अच्छी शुरूआत नहीं मिली थी। फखर जमन (1) को मोइन ने पवेलियन भेज दिया। बाबर आजम (21) को टॉम कुरैन ने बोल्ड कर पाकिस्तान को दूसरा झटका दिया। यहां से हफीज और हैदर ने शतकीय साझेदारी की। 132 के कुल स्कोर पर हैदर आउट हो गए। उन्होंने अपनी पारी में 33 गेंदों का सामना कर पांच चौके और दो छक्के मारे।

शादाब खान 15 रन बनाकर आउट हो गए। हफीज हालांकि एक छोर पर खड़े रहे और टीम को मजबूत स्कोर दिया। उन्होंने अपनी पारी में 52 गेंदों का सामना कर चार चौके और छह छक्के लगाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares