nayaindia ब्रॉड को बाहर करने का दुख नहीं: स्टोक्स - Naya India
kishori-yojna
खेल समाचार| नया इंडिया|

ब्रॉड को बाहर करने का दुख नहीं: स्टोक्स

साउथैम्पटन। इंग्लैंड के कार्यवाहक कप्तान बेन स्टोक्स ने कहा है कि उन्हें एजेस बाउल में वेस्टइंडीज के खिलाफ खेले गए पहले टेस्ट मैच में स्टुअर्ट ब्रॉड को बाहर करने का दुख नहीं है। इस मैच में वेस्टइंडीज ने इंग्लैंड को चार विकेट से हरा तीन मैचों की टेस्ट सीरीज में 1-0 की बढ़त ले ली है। मैच के अंतिम दिन 200 रनों का पीछा करते हुए वेस्टइंडीज ने यह लक्ष्य छह विकेट खोकर हासिल कर लिया।

मैच के बाद स्टोक्स ने कहा, “मुझे स्टुअर्ट ब्रॉड को बाहर करने का पछतावा नहीं है। हम भाग्यशाली हैं कि हम उन जैसे खिलाड़ी को बाहर कर सकते हैं। उन्होंने इंटरव्यू में जिस तरह का जूनून दिखाया है अगर वह नहीं दिखाते तो मैं थोड़ा निराश होता।

वह अभी खत्म नहीं हुए हैं। अगर वह दूसरे टेस्ट मैच में खेलते हैं तो मुझे उम्मीद है कि वह कुछ विकेट लेकर लौटेंगे। टेस्ट में इंग्लैंड के लिए 485 विकेट लेने वाले स्टोक्स ने कहा था कि वह पहले मैच में अंतिम-11 में न चुने जाने से निराश हैं। स्टोक्स ने वहीं माना कि उनकी टीम ने लक्ष्य का बचाव करते हुए कुछ मौके गंवाए। उन्होंने कहा, “दबाव अपने आप में अलग तरीके से दिखता है, दिमाग में कुछ उथल-पुथल चलती रहती है, कुछ ऐसे मौके थे जिन्हें हम भुना नहीं पाए।

स्टोक्स ने कहा, आत्मनिरिक्षण में कई सकारात्मक बाते हैं और यह मैच हमारे लिए सीखने के लिए अच्छा मुकाम साबित हुआ। स्टोक्स को नियमित कप्तान जोए रूट की गैरमौजूदगी में टीम की कप्तानी मिली थी। स्टोक्स ने कहा कि उन्होंने कप्तानी का लुत्फ उठाया। स्टोक्स ने कहा, “मुझे इंग्लैंड की कप्तानी करने में मजा आया, लेकिन यह रूट की टीम है और मैं वापसी में उनका स्वागत करता हूं। रूट बच्चे के जन्म के कारण इस मैच में नहीं खेले थे। वह 16 जुलाई से ओल्ड ट्रेफर्ड में शुरू हो रहे टेस्ट मैच से वापसी करेंगे।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

four + 2 =

kishori-yojna
kishori-yojna
ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
आवास ऋण पर चिदंबरम की वित्त सचिव को सलाह
आवास ऋण पर चिदंबरम की वित्त सचिव को सलाह