nayaindia बायो बबल में रहने वाले ही समझेंगे, इसके भीतर जीवन कितना मुश्किल : पोलार्ड -
खेल समाचार| नया इंडिया| %%title%% %%page%% %%sep%%

बायो बबल में रहने वाले ही समझेंगे, इसके भीतर जीवन कितना मुश्किल : पोलार्ड

नई दिल्ली। दुनिया के भर के टी-20 फ्रेंचाइजी लीग में खेलने वाले वेस्टइंडीज के सीमित ओवरों के कप्तान कीरोन पोलार्ड ने कहा है कि बायो बबल का जीवन बहुत ही मुश्किल है। पोलार्ड ने कहा, बायो बबल में जीवन बहुत ही मुश्किल है। मैंने इसके बारे में बहुत से लोगों से टिप्पणी करते हुए सुना है। वे बायो बबल में नहीं रहते हैं, लेकिन वे इसे नहीं समझ सकते।

उन्होंने कहा, लेकिन फिर वही कि जितना संभव हो सके या जितना देर तक हो सके, हमें इसके साथ रहने की कोशिश करनी चाहिए। जब खिलाड़ी बबल से ब्रेक लेने का फैसला करते हैं तो मुझे नहीं लगता है कि लोगों को इससे उदास होना चाहिए। लेकिन फिर वही बात कि जब आप ऐसी स्थिति में होते हैं तो आप इसे समझ सकते हैं। पोलार्ड ने कहा कि फ्रीलांस क्रिकेटर के रूप में वह अपनी भूमिका का इस्तेमाल कर रहे हैं।

ऑलराउंडर ने कहा, यह कुछ ऐसा है, जिसका कि मैं इस्तेमाल कर सकता हूं। एक बार जब आप यह जान लेते हैं कि टीम के लिए प्रदर्शन करने के लिहाज से आपके पास क्या है तो फिर ठीक है। व्यक्तिगत तौर पर जब आप विश्व का दौरा करते हैं तो आप लागों से मिलते हैं और उनके जीवन तथा संस्कृति को समझते हैं। 33 के पोलार्ड को सितंबर 2019 में वेस्टइंडीज टीम का वनडे और टी-20 का कप्तान बनाया गया था। वह साथ ही दुनियाभर के टी-20 और टी-10 क्रिकेट में भी खेलते हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published.

2 + 19 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
संगठन संभालने में लगे उद्धव
संगठन संभालने में लगे उद्धव