मु्ंबई का सामना कर्नाटक से, रहाणे और साव पर होंगी निगाहें

मुंबई। मुंबई की टीम जब शुक्रवार को यहां शुरू होने वाले रणजी ट्राफी एलीट ग्रुप बी मुकाबले में कर्नाटक के सामने होगी तो सभी का ध्यान टेस्ट विशेषज्ञ अजिंक्य रहाणे और युवा खिलाड़ी पृथ्वी साव के प्रदर्शन पर लगा होगा। रहाणे और साव दोनों रेलवे के खिलाफ पिछले रणजी ट्राफी मुकाबले में बल्ले से विफल रहे जिसमें मुंबई को ढाई दिन के अंदर 10 विकेट से हार का सामना करना पड़ा। दोनों खिलाड़ियों के लिये कुछ रन जुटाने का बढ़िया मौका होगा। साव के लिये यह अंतिम रणजी मैच होगा क्योंकि वह 10 जनवरी को भारत ‘ए’ टीम के साथ न्यूजीलैंड के लिये रवाना होंगे।

सलामी बल्लेबाज साव ने अच्छी शुरूआत तो हासिल की लेकिन वह पिछले मैच में इसे लंबी पारी में नहीं बदल सके जबकि उन्होंने बड़ौदा के खिलाफ टूर्नामेंट के शुरूआती मैच में दोहरा शतक जड़ा था। रहाणे भी न्यूजीलैंड के लिये रवाना होंगे और उनके लिए कर्नाटक के खिलाफ मुकाबला फार्म हासिल करने के लिये अच्छा मंच प्रदान करेगा। मुंबई को घरेलू मुकाबले में रेलवे के खिलाफ शर्मनाक हार के बाद सभी विभागों में सुधार करने की जरूरत है। हालांकि 41 बार के रणजी चैम्पियन को भारतीय खिलाड़ी श्रेयस अय्यर, शिवम दुबे और तेज गेंदबाज शार्दुल ठाकुर की सेवायें नहीं मिल पायेंगी जो भारतीय टीम के साथ होंगे। इनकी अनुपस्थिति में कप्तान सूर्यकुमार यादव, सिद्धेश लाड और अनुभवी आदित्य तारे के पास खुद को साबित करने का अच्छा मौका होगा।

इसे भी पढ़ें : एटीपी कप आस्ट्रेलियन ओपन की तैयारी के लिए नहीं : नडाल

अगर सरफराज खान अंतिम एकादश में जगह बनाने में सफल रहते हैं तो उनके पास भी फायदा उठाने का मौका होगा। यादव भी 10 जनवरी को भारत ए टीम के साथ न्यूजीलैंड के लिये रवाना हो जायेंगे। तुषार देशपांडे गेंदबाजों की अगुआई करेंगे। वहीं कर्नाटक को भारतीय सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल की सेवायें नहीं मिलेंगी लेकिन उनके पास कप्तान करूण नायर, सलामी बल्लेबाज देवदत्त पड्डीकल जैसे खिलाड़ी होंगे। अभिमन्यु मिथुन की अगुआई वाला तेज गेंदबाजी आक्रमण मुंबई के लिये कड़ी चुनौती पेश करेगा। कर्नाटक टीम से जुड़े सूत्रों के अनुसार बीसीसीआई ने आगामी सत्र को देखते हुए मयंक को आराम करने को कहा है इसलिये वह मैच में नहीं खेलेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares