nayaindia सुपर ओवर हमारे लिए कभी अच्छे नहीं रहे: विलियम्सन - Naya India
खेल समाचार| नया इंडिया|

सुपर ओवर हमारे लिए कभी अच्छे नहीं रहे: विलियम्सन

हैमिल्टन। पिछले साल यह सुपर ओवर ही था जिसने न्यूजीलैंड के विश्व कप जीतने की राह में रोड़ा अड़ा दिया था और बुधवार को भी भारत के खिलाफ खेले गए तीसरे टी-20 मैच में भी उसकी जीत की कहानी सुपर ओवर में पलट गई।

भारत ने 20 ओवरों में पांच विकेट के नुकसान पर 179 रन बनाए और न्यूजीलैंड भी निर्धारित ओवरों में भारत से एक विकेट ज्यादा खोते हुए समान स्कोर बना पाई वो भी तब जब कप्तान केन विलियम्सन ने 95 रनों की पारी खेली।

आखिरी ओवर में नौ चाहिए थे और रॉस टेलर ने मोहम्मद शमी द्वारा फेंके गए ओवर की पहली गेंद पर छक्का लगा न्यूजीलैंड को जीत की दहलीज पर पहुंचा दिया था, लेकिन बाकी गेंदों पर कीवी बल्लेबाज रन नहीं कर पाए और मुकाबला टाई रहा। नतीजा सुपर ओवर में निकलना था, जहां रोहित शर्मा ने आखिरी गेंद पर छक्का मार कर मेजबान टीम को मायूस किया।

इसे भी पढ़ें :- रोहित के कमाल से भारत ने सुपर ओवर में रचा इतिहास

मैच के बाद कप्तान केन विलियम्सन ने भी माना कि सुपर ओवर उनके लिए अच्छे नहीं हैं। कप्तान ने कहा, “हमारे लिए सुपर ओवर अच्छे नहीं रहे हैं, इसलिए हमें तय समय में ही अच्छा करना होगा और अच्छे परिणाम लाने होंगे। कप्तान हालांकि इस बात से खुश हैं कि टीम ने इस मैच में बीते दो मैचों की तुलना में अच्छा किया।

विलियम्सन ने कहा, हमने वैसे सभी विभागों में अच्छा किया। हमने गेंद से अच्छी वापसी की। दोनों टीमों ने साइड की छोटी बाउंड्रीज का फायदा उठाया। इस तरह के प्रयास के बाद हारना बेहद निराशाजनक है, लेकिन यह छोटे अंतरों का खेल है। कीवी टीम के कप्तान ने कहा कि भारत ने अहम तीन गेंदों पर अपने अनुभव का इस्तेमाल कर जीत हासिल की है। उन्होंने कहा, तीन गेंदों पर हमने देखा कि भारत अपने अनुभव के दम पर हमसे आगे रहा। हमें उनसे सीखना चाहिए।

Leave a comment

Your email address will not be published.

twenty + 14 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
गहलोत का बदल गया रुख
गहलोत का बदल गया रुख