nayaindia World Test Championship : भारतीय बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने कहा, हमें कीवी आक्रमण का अच्छा-खासा आइडिया है - Naya India
खेल समाचार| नया इंडिया|

World Test Championship : भारतीय बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने कहा, हमें कीवी आक्रमण का अच्छा-खासा आइडिया है

Mumbai | भारतीय बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) का कहना है कि विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (World Test Championship) के फाइनल में न्यूजीलैंड का गेंदबाजी आक्रमण भारतीय बल्लेबाजों के सामने चुनौती पेश नहीं कर सकता क्योंकि यह मैच तटस्थ स्थान पर खेला जाना है और हमें विपक्षी टीम के गेंदबाजों का आइडिया है। विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (World Test Championship) का फाइनल मुकाबला 18 से 22 जून तक खेला जाना है।

चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) ने कहा, न्यूजीलैंड का गेंदबाजी आक्रमण बेहद संतुलित है। हमने इनका सामना पहले भी किया है और हमें उनके गेंदबाजों का आइडिया है तथा हम इसके लिए तैयार हैं। न्यूजीलैंड ने भारत के खिलाफ हुई पिछली Test सीरीज 2-0 से जीती थी लेकिन पुजारा का कहना है कि तटस्थ स्थल होने से दोनों टीमों के लिए बराबर संभावना है।

चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) ने कहा, मुझे नहीं लगता कि न्यूजीलैंड को फायदा पहुंचेगा। जब हमारे बीच 2020 में सीरीज हुई थी तो उनके घर में मुकाबला खेला गया था। लेकिन विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (World Test Championship) का फाइनल तटस्थ स्थल में खेला जाना है जिसके कारण दोनों टीमों को घर का फायदा नहीं मिलेगा। उन्होंने कहा कि भारत को 2018 में साउथम्पटन में मिली हार का यहां नकारात्मक प्रभाव नहीं पड़ेगा।

चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) ने कहा, एक मैच को लेकर चलना सही नहीं है। हमने उस समय इंग्लैंड के खिलाफ पकड़ बनाई थी और हमारे पास मौका था। लेकिन मैं उस मुकाबले की विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (World Test Championship) के फाइनल से तुलना नहीं कर सकता। हमें किसी भी मैच के सकारात्मक पहलू को देखना चाहिए। भारत उस मुकाबले को जीतने के करीब था लेकिन अंत में उसे 60 रन से हार का सामना करना पड़ा था।

इसे भी पढ़ें :-Madhya Pradesh : Congress विधायक ने Corona मरीजों के लिए शुरु की निशुल्क एंबुलेंस सुविधा 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1 × five =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
अदालत के सहारे चुनाव आयोग में सुधार!
अदालत के सहारे चुनाव आयोग में सुधार!