ऑस्ट्रेलियाई ओपनः शारापोवा और फेडरर चौथे दौर में पहुंचे

मेलबर्न। रूस की मारिया शारापोवा ने शुक्रवार को महिला एकल मुकाबले में गत चैम्पियन कैरोलीन वोज्नियाकी को शिकस्त देकर ऑस्ट्रेलियाई ओपन के चौथे दौर में जगह पक्की की। शारापोवा के अलावा महिलाओं में पांचवी वरीयता प्राप्त स्लोआने स्टीफंस और पुरूषों में दिग्गज खिलाड़ी रोजर फेडरर तथा राफेल नडाल भी अंतिम-16 में पहुंचने में सफल रहे।

पांच बार की ग्रैंडस्लैम विजेता शारापोवा ने डेनमार्क की विश्व रैंकिंग में पहले स्थान पर काबिज वोज्नियाकी को तीन सेट तक चले मुकाबले को 6-4, 4-6, 6-3 से अपने नाम किया। 2017 में प्रतिबंधित पदार्थ के परीक्षण में विफल होने से लगे निलंबन की वापसी के बाद यह उनकी सबसे बड़ी जीत है। अब अंतिम 16 में 2008 की चैम्पियन शारापोवा का सामना स्थानीय खिलाड़ी एश बार्टी से होगा। शारापोवा ने अपना अंतिम ग्रैंडस्लैम 2014 में जीता था, जब वह फ्रेंच ओपन चैम्पियन बनी थी। पन्द्रहवीं वरीयता प्राप्त बार्टी ने यूनाना की सक्कारी को 7-5, 6-1 से शिकस्त दी। उन्होंने टूर्नामेंट में अब तक एक भी सेट नहीं गंवाया है। स्विट्जरलैंड के महान खिलाड़ी और गत चैम्पियन रोजर फेडरर ने शुक्रवार को यहां रोड लावेर एरेना में अपने 100वें मैच में अमेरिका के टेलर फ्रिट्ज को 6-2, 7-5, 6-2 से हराकर ऑस्ट्रेलियाई ओपन के अंतिम 16 में जगह पक्की की। विश्व रैंकिंग में 50वें स्थान पर काबिज फ्रिट्ज के पास 20 बार के ग्रैंडस्लैम चैम्पियन के शानदार खेल का कोई जवाब नहीं था। शुक्रवार को 88 मिनट तक चले इस मुकाबले को जीत कर फेडरर ने ओपन युग में 63वीं बार ग्रैंडस्लैम के चौथे दौर में पहुंचने का रिकार्ड बनाया।

आस्ट्रेलियाई ओपन खिताब को रिकार्ड सातवीं बार जीतने के सपने के साथ खेल रहे फेडरर ने पहला सेट महज 20 मिनट में अपने नाम किया। पूर्व जूनियर नंबर एक फ्रिट्ज ने दूसरे सेट में हालांकि उन्हें टक्कर दी और स्कोर 5-5 किया लेकिन फेडरर ने इस सेट को भी 7-5 से जीत लिया। तीसरे सेट में फेडरर ने फ्रिट्ज कोई मौका नहीं दिया और 6-2 से जीत कर मैच अपने नाम कर लिया। फेडरर, नोवाक जोकोविच और राय एमरसन ने इस आस्टेलियाई ओपन को छह बार जीता है। आस्ट्रेलिया के महान खिलाड़ी एमरसन ने हालांकि ओपन युग से पहले यह रिकार्ड कायम किया था।

क्वार्टरफाइनल में जगह पक्की करने के लिए उन्हें 14वीं वरीयता प्राप्त यूनान के स्टेफानोस सिटसिपास की चुनौती से पार पाना होगा जिन्होंने तीसरे दौर में जार्जिया के 19वीं वरीयता प्राप्त निकोलोज बासिलाशविलि को चार सेट चले मुकाबले में 6-3, 3-6, 7-6 , 6-4 से हराया। चेक गणराज्य के थामस बर्डिच ने अर्जेंटीना के 18वीं वरीयता प्राप्त डिएगो श्वार्ट्जमैन को 5-7, 6-3, 7-5, 6-4 से शिकस्त दी। इस टूर्नामेंट में दो बार 2014 और 2015 में सेमीफाइनल में पहुंचने वाले इस खिलाड़ी का अंतिम-16 में सामना स्पेन के दिग्गज रफेल नडाल और ऑस्ट्रेलिया के युवा खिलाड़ी एलेक्स डि मिनौर के मैच के विजेता से होगा। पुरूष एकल के अन्य मैच में 20वीं वरीयता प्राप्त बुल्गारिया के ग्रिगोर दिमित्रोव ने तीसरे दौर में इटली के थामस फैबियानो को हराया। दिग्गज आंद्रे अगासी से कोचिंग लेने वाले इस खिलाड़ी ने दो घंटे से अधिक समय तक चले मुकाबले को 7-6, 6-4, 6-4 से अपने नाम किया।

अंतिम-16 में उनका सामना गैरवरीय अमेरिका के फ्रांसेस जियाफोई और इटली के अनुभवी एंड्रियास सेप्पी के बीच होने वाले मैच के विजेता से होगा। महिला एकल में अमेरिका की पांचवी वरीयता प्राप्त स्लोआने स्टीफंस 31वीं वरीयता प्राप्त क्रोएशिया कि पेत्रा मार्टिच को हराकर प्री-क्वार्टर फाइनल में पहुंची। अमेरिकी ओपन की पूर्व विजेता ने इस संघर्षपूर्ण मैच को 7-6, 7-6 से अपने नाम किया। उन्हें अंतिम-16 में उन्हें रूस की अनास्तासिया पावलुचेंकोवा की चुनौती से पार पाना होगा। अनास्तासिया ने अलीकसंद्रा सासनोविच को एकतरफ मुकाबले में 6-0, 6-3 से शिकस्त दी। अमेरिका की गैरवरीय अमांदा अनिसिमोवा ने 11वीं वरीयता प्राप्त बेलारूस की आर्याना सबलेंका को हराकर अपना शानदार प्रदर्शन जारी रखा।

129 Views

बताएं अपनी राय!

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।