• [POSTED BY : Mohan Kumar] PUBLISH DATE: ; 13 August, 2019 10:48 PM | Total Read Count 20
  • Tweet
मंदी पसरी, घटी गाड़ियों की खरीद

नई दिल्ली। देश में खरीददारों का टोटा और मंदी का संकट तेजी से बढ़ रहा है। वाहन बिक्री में जुलाई के महिने 19 साल की 18.7 प्रतिशत की भारी गिरावट दर्ज की गयी है। सभी वाहन श्रेणियों में जुलाई में गिरावट दर्ज की गयी है। वाहन उद्योग पिछले दो-तीन महीने से भारी दबाव झेल रहा है। इसके चलते क्षेत्र के 15,000 लोग अपनी नौकरी गंवा चुके हैं और 10 लाख से अधिक नौकरियों पर खतरा मंडरा रहा है।

भारतीय वाहन विनिर्माताओं के संगठन ‘सियाम’ की जारी रपट के मुताबिक देश में कुल वाहन बिक्री जुलाई में 18.71 प्रतिशत गिरकर 18,25,148 वाहन रही जो जुलाई 2018 में 22,45,223 वाहन थी। यह दिसंबर 2000 के बाद वाहन बिक्री में आयी सबसे बड़ी गिरावट है। उस दौरान वाहन बाजार में 21.81 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गयी थी।

इसी तरह यात्री वाहनों की घरेलू बिक्री जुलाई में भी करीब 19 साल की सबसे बड़ी गिरावट देखी गयी है। यह लगातार नौवें महीने गिरी है। इस दौरान यात्री वाहनों की बिक्री 30.98 प्रतिशत घटकर 2,00,790 वाहन रही है जो जुलाई 2018 में 2,90,931 वाहन थी। इससे पहले दिसंबर 2000 में यात्री वाहनों की बिक्री में 35.22 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गयी थी।

सियाम के महानिदेशक विष्ण माथुर ने यहां संवाददाताओं से कहा कि आंकड़े दिखाते हैं कि सरकार से राहत पैकेज की कितनी जरूरत है। तत्काल कुछ किए जाने की जरूरत है। उन्होने बताया किवाहन विनिर्माण कंपनियों में पिछले दो से तीन महीनों में करीब 15,000 नौकरियां जा चुकी हैं। इसमें अधिकतर नौकरियां अस्थायी या संविदा कर्मचारियों की थीं। इसके अलावा वाहन कलपुर्जा विनिर्माण क्षेत्र में 10 लाख से अधिक नौकरियों पर खतरा मंडरा रहा है। माथुर ने कहा कि गिरती बिक्री के कारण करीब 300 डीलर अपने स्टोर बंद करने पर मजबूर हैं जिसके चलते करीब दो लाख नौकरियां जा सकती हैं।

माथुर के मुताबिक तत्काल सरकारी मदद के बारे में माथुर ने कहा कि उन्हें सरकार से राहत पैकेज मिलने की उम्मीद है। हालांकि यह अभी साफ नहीं है कि इसमें क्या-क्या अवयव शामिल होंगे।

वाहन उद्योग ने सरकार से वाहनों पर जीएसटी दरों में कटौती करने और पुराने वाहनों को कबाड़ में भेजने की नीति लाने के लिए कहा है। माथुर ने कहा कि यदि वाहन उद्योग वृद्धि नीचे जाएगा तो जीडीपी वृद्ध भी गिरेगी। विनिर्माण जीडीपी में वाहन क्षेत्र का योगदान लगभग आधे के बराबर है। वहन क्षेत्र में प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष तौर पर 3.7 करोड़ लोगों को रोजगार मिला है।

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।

Categories