• [POSTED BY : Mohan Kumar] PUBLISH DATE: ; 11 September, 2019 10:35 PM | Total Read Count 16
  • Tweet
गडकरी ने किया वित्त मंत्री का बचाव

नई दिल्ली। सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की बातों का बचाव किया। उन्होंने कहा कि सीतारमण के बयान को गलत समझा गया। गडकरी ने कहा कि ऑटो सेक्टर में मंदी की कई वजह हैं। ओला और उबर का इस्तेमाल बढ़ना भी उनमें से एक है। इससे पहले सीतारमण ने मंगलवार को कहा था कि नई पीढ़ी नई कार की ईएमआई चुकाने की बजाय ओला और उबर जैसी सेवाओं का इस्तेमाल करना पसंद कर रही है।

गडकरी ने एक कार्यक्रम में बुधवार को कहा- पिछले कुछ महीनों में वाहन उद्योग में लगातार गिरावट के कई कारण रहे हैं। जैसे ई-रिक्शा की सेल में बढ़ोतरी की वजह से सामान्य ऑटो रिक्शा की बिक्री कम हुई। इसके अलावा देश भर में सार्वजनिक परिवहन में बेहतरी भी मंदी की एक वजह रही है। उन्होंने ट्रैफिक नियमों के उल्लंघन पर बढ़ाए गए जुर्माने का भी बचाव किया और कहा कि जो राज्य इसका विरोध कर रहे हैं उनको जान से ज्यादा जुर्माना महत्वपूर्ण लग रहा है।

नितिन गडकरी ने कहा- जो राज्य नए मोटर वाहन कानून के उल्लंघन पर जुर्माना कम करना चाहते हैं वो घटा लें। हमारा मकसद हादसे कम करने का है। उन्होंने कहा कि जो राज्य इस नए कानून को लागू करने से इनकार कर रहे हैं उनके लिए  जिंदगी से ज्यादा क्या पैसा महत्वपूर्ण है। नितिन गडकरी ने कहा- मैंने जीवन की रक्षा करने का संकल्प लिया था और यह जान बचाने के लिए किया गया है। यह मेरा पहला उद्देश्य है, लेकिन मुझे राज्य सरकारों के सहयोग की जरूरत है।

गडकरी ने जुर्माना बढ़ाने के फैसले का बचाव करते हुए कहा- यह कोई राजस्व इकट्ठा करने की योजना नहीं है। क्या आपको डेढ़ लाख लोगों की मौत की चिंता नहीं है?  उन्होंने कहा- अगर राज्य सरकारें जुर्माने की रकम को घटाना चाहती हैं तो ठीक है, लेकिन क्या यह सच्चाई नहीं है कि लोग न तो कानून को मानते हैं और न ही इससे डरते हैं। गौरतलब है कि गुजरात सरकार ने अपने यहां जुर्माने की राशि को 50 फीसदी तक कम कर दिया है।

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।

Categories