• [EDITED BY : News Desk] PUBLISH DATE: ; 14 August, 2019 05:51 PM | Total Read Count 84
  • Tweet
चार लाख लोगों को ‘समर्थ’ बनाएगा वस्त्र मंत्रालाय

नई दिल्ली। देश के 18 राज्यों के करीब चार लाख लोगों को ' समर्थ ' योजना के तहत कुशल बनाया जाएगा। इस योजना का उद्देश्य वस्त्र क्षेत्र से जुड़े कामकाजों में लोगों को दक्ष बनाना और क्षमता निर्माण करना है। योजना के तहत केंद्र और राज्य सरकारों के बीच समझौते पर हस्ताक्षर किए गए।

बुधवार को वस्त्र मंत्रालय और राज्य सरकारों के प्रतिनिधियों के बीच इसे लेकर समझौतों का आदान-प्रदान किया गया। इस दौरान, केंद्रीय वस्त्र मंत्री स्मृति ईरानी मौजूद रहीं। ईरानी ने कहा कि राज्य सरकारों के प्रतिनिधियों ने यहां उपस्थित होकर तत्परता दिखायी है। भारत सरकार समेत सभी 18 राज्य ने एक छत के नीचे चार लाख लोगों को कुशल बनाने का संकल्प लिया है। मुझे लगता है कि देश के इतिहास में यह इस तरह का अब तक का पहला बड़ा कदम है।

जिन 18 राज्यों ने समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं उनमें अरुणाचल प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, केरल, मिजोरम, तमिलनाडु, तेलंगाना, उत्तर प्रदेश, आंध्र प्रदेश, असम, मध्य प्रदेश, त्रिपुरा, कर्नाटक, ओडिशा, मणिपुर, हरियाणा, मेघालय, झारखंड और उत्तराखंड शामिल हैं। वस्त्र से जुड़े जिन क्षेत्रों में लोगों को कुशल बनाया जाएगा उनमें तैयार परिधान, बुने हुए कपड़े, धातु हस्तकला, हथकरघा, हस्तकला और कालीन शामिल हैं।

ईरानी ने कहा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का हमेशा से यह प्रयास रहा है कि नए भारत में हम यह सुनिश्चित करें कि अजीविका की इच्छा रखने वाला हर नागरिक कुशल और दक्ष हो। "
 

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।

Categories