• [EDITED BY : Super Admin] PUBLISH DATE: ; 18 July, 2019 04:21 PM | Total Read Count 24
  • Tweet
नीशाम सुपर ओवर के छक्के को नहीं भूल पाएंगे

आकलैंड । न्यूजीलैंड के हरफनमौला जिम्मी नीशाम जब इंग्लैंड के खिलाफ विश्व कप फाइनल के सुपर ओवर में छक्का लगाकर टीम को जिताने की कोशिश कर रहे थे, तब उनके हाई स्कूल के शिक्षक और शुरूआती कोच डेविड गोर्डन ने आखिरी सांसें ले रहे थे। सुपर ओवर में न्यूजीलैंड को जीत के लिये 16 रन चाहिये थे। स्कोर बराबर रहने के बाद चौकों छक्कों की गिनती के आधार पर टीम हार गई। गोर्डन की बेटी लियोनी ने कहा कि उनके पिता उस समय अस्पताल में थे। उन्होंने स्टफ डाट काम डाट न्यूजीलैंड से कहा, आखिरी ओवर में और सुपर ओवर में एक नर्स भीतर आई तो उसने बताया कि उनकी सांस की गति बदल रही है। मुझे लगता है कि जब नीशाम ने वह छक्का जड़ा, तब उन्होंने आखिरी सांस ली। नीशाम ने गुरूवार को ट्वीट किया, डेव गार्डन, मेरे हाई स्कूल शिक्षक, कोच और दोस्त। खेल के प्रति आपका प्यार अनुकरणीय था खासकर उन खुशकिस्मत लोगों के लिये जो आपके मार्गदर्शन में खेले। उम्मीद है कि उस मैच में हमारे प्रदर्शन पर आपको गर्व हुआ होगा। धन्यवाद । ईश्वर आपकी आत्मा को शांति दे।’

 

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।

Categories