• [WRITTEN BY : Editorial Team] PUBLISH DATE: ; 02 September, 2019 06:22 AM | Total Read Count 269
  • Tweet
रिजर्व बैंक का यह खेल!

भारतीय रिजर्व बैंक ने सरकार की धन की मांग को पूरा किया। उसे 1 लाख 76 हजार करोड़ रुपये दने का फैसला किया। आरबीआई ने बताया कि उसकी आय में पिछले साल की तुलना में इस साल 147 फीसदी का उछाल दर्ज किया गया है। यह वृद्धि बीते पांच वर्षों में सबसे अधिक है। मगर इसके साथ ही ये सवाल उठा है कि सुस्ती की ओर बढ़ती अर्थव्यवस्था और खस्ता हालत निजी बैंकों और गैर बैंकिंग वित्तीय कंपनियों (एनबीएफसी) के संकट बीच आरबीआई की आय में बढ़ोतरी कैसे आई। इसका राज़ यह है कि रिजर्व बैंक ने अपनी सालाना आय के मूल्यांकन का तरीका ही बदल दिया। मिली जानकारी के मुताबिक रिजर्व बैंक की आय 2017-18 में 78,281 करोड़ रुपये से बढ़कर 2018-19 में 193,036 करोड़ रुपये हो गई है। 2017-18 से 2018-19 के बीच आरबीआई को ब्याज से होने वाली कमाई में 44.6 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई है। यहां चौंकाने वाली बात ये रही कि इसी दौरान बैंक को अन्य स्रोतों से होने वाली कमाई में 1854.6 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई। विदेशी मुद्रा लेनदेन बैंक को अन्य स्रोतों से होने वाली आय का हिस्सा है। बीते साल 2017-18 में बैंक को विदेशी मुद्रा लेनदेन से जहां 4,067 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ था। वहीं सालाना रिपोर्ट में सामने आया है कि 2018-19 में विदेशी मुद्रा लेनदेन से बैंक को 28,998 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ। 2016-17 में भी बैंक को विदेशी मुद्रा लेनदेन से 5,116 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ था।

मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक विदेशी मुद्रा लेनदेन से होने वाली आय में ये बढ़ोतरी दरअसल इसके मूल्यांकन में इस्तेमाल होने वाली विधि में बदलाव के चलते आई। आरबीआई के मुताबिक 2013 में बनी मालेगाम कमेटी और जालान कमेटी की ओर से रिपोर्ट में दिए गए सुझावों पर काम करते हुए विदेशी मुद्रा लेनदेन की मूल्यांकन विधि में बदलाव किया गया है। बहरहाल, इस विधि के इस्तेमाल का सबसे बड़ा फायदा ये हुआ है कि बैंक अपनी आय में बढ़ोतरी दिखाने में कामयाब हुआ है। और उसकी बदौलत वह सरकार को ज्यादा धन देने में सफल हुआ। लेकिन मुद्दा यह है कि अगर मूल्यांकन का पहले का तरीका होता, तो इतनी रकम देने के बाद रिजर्व बैंक के आपात कोष की कैसी सेहत नजर आती? क्या तरीका बदल कर रिजर्व बैंक ने अपनी स्थिरता से समझौता नहीं किया है? 

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।

Categories