• [WRITTEN BY : Editorial Team] PUBLISH DATE: ; 09 September, 2019 06:46 AM | Total Read Count 105
  • Tweet
हांगकांग में संकट बरकरार

हांगकांग की नेता ने बीते बुधवार को घोषणा की कि विवादित प्रत्यर्पण विधेयक को वापस लिया जाएगा। इस विधेयक के चलते शहर में लोकतंत्र के समर्थन में पिछले तीन महीने से रैलियां और विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं। इस घोषणा के साथ ही मुख्य कार्यकारी कैरी लैम प्रदर्शनकारियों की पांच प्रमुख मांगों में से एक के आगे झुक गईं। हांगकांग पर चीन के अर्ध स्वायत्त शासन को सबसे बड़ी चुनौती देते हुए लाखों लोग जून से सड़कों पर उतरे हुए हैं। विधेयक को वापस लेने से कई महीनों के इनकार के बाद लैम अंतत: मान गईं। अब उन्होंने शांति बनाए रखने की अपील की है। इस विधेयक में किसी अपराध के संदिग्ध को मुख्य भूमि चीन को प्रत्यर्पित करने की बात थी। लैम ने अपने कार्यालय से जारी एक वीडियो में कहा कि लोगों की चिंता का निपटारा करने के लिए सरकार इस विधेयक को वापस ले रही है। स्थानीय मीडिया में लैम के बयान संबंधी शुरुआती खबरों में उम्मीद जताई गई कि अब मौजूदा संकट खत्म हो जाएगा। इन खबरों के बाद हांगकांग का शेयर बाजार दोपहर के कारोबार में लगभग चार प्रतिशत तक उछला। लेकिन ये उम्मीदें बहुत जल्द धूमिल हो गईं, जब लोकतंत्र समर्थक कार्यकर्ताओं ने अपने अभियान की और मांगों को मानने का दबाव बनाने के लिए अधिक आक्रोश एवं दृढ़ता जताई। हांगकांग के लोकतंत्र समर्थकों  ने कहा कि यह बहुत देर से उठाया गया बहुत थोड़ा कदम है। कई ऐसे कार्यकर्ताओं को पिछले हफ्ते पुलिस ने गिरफ्तार किया था। बाद में उन्हें रिहा कर दिया गया। प्रदर्शन प्रत्यर्पण विधेयक लाने के लैम सरकार के प्रयासों के विरोध में शुरू हुए थे।

इस विधेयक को हांगकांग को मिली आजादी के हनन के तौर पर देखा जा रहा था। विधेयक का विरोध कर रहे लोगों का कहना है कि इस विधेयक में मुकदमा चलाने के लिए आरोपियों और संदिग्धों को चीन में प्रत्यर्पित करने का प्रावधान है। इससे हांगकांग की स्वायत्तता और यहां के नागरिकों का मानवाधिकार खतरे में आ जाएगा। वहीं प्रस्तावित प्रत्यर्पण विधेयक को लेकर हांगकांग सरकार की ओर से कहा गया था कि इस विधेयक से ये शहर अपराधियों के लिए सुरक्षित नहीं रह जाएगा। प्रस्तावित विधेयक को औपचारिक रूप से वापस लेने से बार-बार इनकार कर प्रदर्शनकारियों को नाराज कर दिया था। मगर इसे वापस लिए जाने के बाद भी उनकी नाराजगी दूर नहीं हुई है। यानी संकट बरकरार है।

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।

Categories