• [EDITED BY : Super Admin] PUBLISH DATE: ; 03 May, 2019 08:47 AM | Total Read Count 122
  • Tweet
मजाक का पात्र बनना!

भारतीय सेना ने बेवजह खुद को मजाक का पात्र बनाया। सोशल मीडिया के दौर में ऐसी बातें बिना प्रतिक्रिया के नहीं रह सकतीं। प्रतिक्रिया दुनिया भर में हुई। पश्चिमी मीडिया ने इसे खबर बनाया। बीबीसी की हेडिंग थी- येति से संबंधित दावे को लेकर भारतीय सेना का मखौल उड़ा। भारतीय सेना ने दावा किया था कि उसके एक अभियान दल ने हिमालय के मकालू बेस कैंप के पास मायावी हिममानव 'येति' के रहस्यमय पैरों के निशान देखे हैं। सेना के अतिरिक्त सूचना महानिदेशालय ने अपने ट्वीट में कहा- पहली बार भारतीय सेना के पर्वतारोहण अभियान दल ने नौ अप्रैल 2019 को मकालू बेस कैंप के करीब 32 इंच लंबे और 5 इंच चौड़े 'येति' के रहस्यमयी पैरों के निशान देखे। इस मायावी हिम-मानव को इससे पहले सिर्फ मकालू-बरुन नेशनल पार्क में देखा गया। मकालू-बरुन राष्ट्रीय उद्यान नेपाल के लिंबुवान हिमालय क्षेत्र में स्थित है। यह दुनिया का एकमात्र संरक्षित क्षेत्र है, जिसमें 26,000 फुट से अधिक उष्ण-कटिबंधीय वन के साथ-साथ बर्फ से ढकी चोटियां हैं। गौरतलब है कि येति एक वानर जैसा प्राणी है, जो औसत मानव से बहुत अधिक लंबा और बड़ा है। यह मोटे फर में ढका हुआ होता है। माना जाता है कि यह हिमालय, साइबेरिया, मध्य और पूर्वी एशिया में रहता है। इस प्राणी को आम तौर पर एक किंवदंती माना जाता है, क्योंकि इसके अस्तित्व का लेकर वैज्ञानिक एकमत नहीं हैं। येति या हिममानव जैसे वानरों का जिक्र पौराणिक कहानियों में जरूर होता रहा है। कहा जाता है कि येति अब भी हिमालयी इलाकों में पाए जाते हैं।

कुछ लोगों का मानना है कि येति रूस में भी हैं। यहां इसे स्नोमैन कहा जाता है। वैज्ञानिकों के एक दल ने 2017 में दावा किया था कि हिम मानव या येति के नमूने भालुओं से मिलते-जुलते हैं। 2008 में दो अमेरिकी व्यक्तियों ने दावा किया था कि उन्हें बंदर और इंसान के मिले-जुले रूप के अवशेष मिले हैं, लेकिन जांच के बाद पता चला कि वह किसी खास प्रजाति के गोरिल्ला के अवशेष थे। बहरहाल, सोशल मीडिया पर भारतीय सेना के इस ट्वीट के बाद सोशल मीडिया यूजर्स की खूब प्रतिक्रिया आई। कई सारे ट्वीट्स में सेना के इस दावे पर संदेह जताया गया। कहा गया कि ऐसा कोई भी दावा करने से पहले संस्था को जिम्मेदार और सावधान रहना चाहिए। काश, ये बात ट्विट करने के पहले सेना अधिकार याद रखते।

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।

Categories