• [EDITED BY : Mohan Kumar] PUBLISH DATE: ; 12 July, 2019 08:47 PM | Total Read Count 308
  • Tweet
बेटी को विधायक पिता से खतरा !

बरेली। हाल ही में सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल हुआ जिसमें एक लड़की ने वीडियो वायरल कर अपनी सुरक्षा की गुहार लगाई थी। विधायक राजेश मिश्रा उर्फ पप्पू भरतौल की बेटी साक्षी ने एक दलित युवक अजितेश कुमार के साथ शादी कर ली थी। साक्षी का कहना था कि उनके पिता को यह पसंद नहीं आया और दलित युवक के साथ शादी करने की वजह से अब वह उन दोनों की जान के पीछे पड़े हैं। 

हालांकि (भाजपा) के विधायक राजेश मिश्रा ने बेटी का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने पर सफाई देते हुए कहा कि 'मैं अपनी बेटी के दुश्मन नहीं हूं।' विधायक मिश्रा ने कहा, "मेरे खिलाफ मीडिया में जो चल रहा है, वो सब गलत है। बेटी बालिग है। उसको निर्णय लेने का अधिकार है। मैंने किसी को जान से मारने की धमकी नहीं दी है। न तो मेरे किसी आदमी ने और न ही मेरे परिवार के किसी व्यक्ति ने धमकी दी है।"

लेकिन जो वीडियो वायरल हुए थे उसमें  साक्षी अपने पति अजितेश के साथ हैं। साक्षी ने कहा क‍ि उन्‍होंने अपनी मर्जी से शादी की है, जिसके बाद परिवार के लोग उसके पीछे पड़े हैं। अगर हम उनके हाथ आ गए तो हमें पक्का मार दिया जाएगा। जबकि दूसरे वीडियो में साक्षी अपने पिता से कह रही हैं, 'मैंने सिंदूर फैशन में नहीं लगा रखा है। मैंने सच में शादी की है। मेरे पति के परिवार को परेशान करना बंद करें। आप राजनीति करें, अपनी सोच बदलें और मुझे आजाद रहने दें। बरेली के सांसद-विधायक और मंत्री जो मेरे पिता का सहयोग कर रहे हैं, वह बंद करें।' 

पुजारी भी कूदा विवाद में
भाजपा विधायक की बेटी साक्षी की दलित युवक अजितेश कुमार से शादी के विवाद में एक नया मोड़ आ गया है। अब राम जानकी मंदिर के पुजारी ने इस बात से इंकार किया है कि उन्होंने शादी कराई थी। जबकि सोशल मीडिया पर युगल द्वारा पोस्ट किए गए विवाह प्रमाण-पत्र से पता चलता है कि चार जुलाई को प्रयागराज के प्रसिद्ध राम जानकी मंदिर में विवाह हुआ था।

एक न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू में मंदिर के मुख्य पुजारी महंत परशुराम सिंह ने इस बात से इंकार किया कि उन्होंने शादी कराई थी और उन्होंने आरोप लगाया कि शादी का प्रमाण-पत्र फर्जी है।दंपति के करीबी सूत्रों ने बताया कि पुजारी पर शादी से इंकार करने का दबाव है।

इसी बीच, इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने दंपति द्वारा दायर एक याचिका की सुनवाई करते हुए 15 जुलाई की तिथि तय की है। दंपति ने विधायक राजेश मिश्रा और उनके गुर्गों से अपनी जान को खतरा होने की बात कहते हुए याचिका दायर की है। 

अजितेश कुमार के पिता हरीश कुमार ने कहा कि उन्हें दंपति के ठिकाने का कोई पता नहीं है। हरीश ने कहा कि उन्होंने और उनके परिवार ने अपनी जान को खतरा होने के कारण बरेली शहर छोड़ दिया है। उन्होंने कहा कि उनके बेटे अजितेश ने उन्हें वीडियो क्लिप भेजी थी, जिसके आधार पर उन्होंने पुलिस को सूचित किया था कि दंपति की जान को खतरा है।

हरीश ने कहा, "अजितेश और साक्षी मेरे संपर्क में नहीं हैं और मैं उनकी सुरक्षा को लेकर आशंकित हूं।" बरेली के विशेष पुलिस अधीक्षक मुनिराज ने कहा कि वह नहीं जानते कि दंपति कहां रह रहा है। मुनिराज ने कहा कि अगर उन्हें उनके ठिकाने के बारे में सूचित किया गया तो वह उन्हें सुरक्षा मुहैया कराएंगे।

भाजपा विधायक राजेश मिश्रा ने गुरुवार को कहा कि उनकी बेटी वयस्क है और अपने फैसले लेने के लिए स्वतंत्र है। उसने गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी देने को गलत ठहराया। मिश्रा ने कहा कि वह पति और पत्नी के बीच उम्र के अंतर को लेकर चिंतित हैं और इसके अलावा लड़के के पास कोई उचित रोजगार भी नहीं है।

 

 

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।

Categories