• [EDITED BY : News Desk] PUBLISH DATE: ; 11 September, 2019 04:21 PM | Total Read Count 24
  • Tweet
डीयू प्रोफेसर हनी बाबू के घर छापेमारी की निंदा

नई दिल्ली। दिल्ली विश्वविद्यालय के प्रोफेसर हनी बाबू के नोएडा स्थित आवास पर छापेमारी की जेएनयूटीए ने बुधवार को निंदा की। पुणे पुलिस ने माओवादियों से कथित संपर्क रखने को लेकर 2017 के एलगार परिषद मामले में मंगलवार को डीयू के प्रोफेसर हनी बाबू के दिल्ली से लगे नोएडा स्थित घर पर छापा मारा था। जेएनयूटीए ने इसे प्रोफेसर को  डराने-धमकाने और प्रताड़ित करने की कोशिश बताया।

पुणे पुलिस ने नोएडा के सेक्टर 78 स्थित 45 वर्षीय बाबू के घर की तलाशी ली थी। पुणे पुलिस में सहायक आयुक्त शिवाजी पंवार ने कहा था कि तलाशी अभियान के दौरान कोई गिरफ्तारी नहीं की गई। जेएनयूटीए ने कहा कि उनके आवास पर तलाशी लेना देशभर के मानवाधिकार की रक्षा करने वाले लोगों, पत्रकारों, प्रोफेसरों, लेखकों तथा कार्यकर्ताओं का मुंह बंद करने, उन्हें डराने-धमकाने के लिए वर्तमान सरकार के तानाशाही वाले प्रयासों की हैरान करने वाली घटना है।

उसने कहा कि उन पर की गई छापेमारी यह बताती है कि आलोचकों को लेकर पुलिस की सनक कितनी बढ़ गई है और असहमति इस हद तक है कि पढ़ने और लिखने को भी संदिग्ध गतिविधियां माना जाने लगा है।

 

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।

Categories