• [EDITED BY : News Desk] PUBLISH DATE: ; 12 July, 2019 10:52 AM | Total Read Count 22
  • Tweet
घरों में फिश एक्वेरियम रखने के वास्तु शास्त्र टिप्स

फिश एक्वेरियम का वास्तुशास्त्र में बहुत अधिक महत्व है। वास्तु शास्त्र में ऐसी मान्यता है की मछलियां घर के सदस्यों के ऊपर आने वाली मुसीबतों को टालती हैं और घर में धन-संपत्ति को भी बनाए रखती हैं। चिकित्सा विज्ञान के शोधों के अनुसार, मछली के एक्वेरियम की शांत सुंदरता को देखकर उच्च रक्तचाप, तनाव, चिंता और कई अन्य बीमारियाँ ठीक हो जाती हैं। शोध यह भी कहते हैं कि अगर चिंता से पीड़ित बच्चा लंबे समय तक मछली के मछलीघर का अवलोकन करता है तो वह जल्दी ठीक हो जाता है। फिश एक्वेरियम सकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न करने और अंततः आपके घर से सभी नकारात्मकता को बाहर निकालने के साथ जुड़ा हुआ है। अगर वास्तु और फेंगशुई की आसान बातों को ध्यान में रखकर, घर में एक्वेरियम रखा जाए तो इसके कई फायदे आपको मिल सकते हैं। 

वास्तु शास्त्र के अनुसार अपने घर में फिश एक्वेरियम रखने के फायदे:

  • मछलियाँ जो सक्रिय और स्वस्थ हैं, सौभाग्य और खुशी लाती हैं।
  • परेशानी लग रही है? फिश पॉट में मछलियों को देखने से आप शांत और तनावमुक्त महसूस करेंगे।
  • मछलियों को खिलाने से आपके अच्छे कर्मों में वृद्धि होगी।
  • चूंकि मछलियों को भगवान विष्णु का पहला अवतार माना जाता है, इसलिए उन्हें सकारात्मक ऊर्जा का स्रोत कहा जाता है।
  • वास्तु शास्त्र का मानना ​​है कि मछलीघर में किसी भी मछली की प्राकृतिक मृत्यु से आपकी कम से कम समस्या कम हो जाएगी।
  • यह माना जाता है कि रंगीन और आकर्षक मछलियां आपके मेहमानों का ध्यान आकर्षित करती हैं, जिससे उनकी सभी नकारात्मक ऊर्जा अवशोषित हो जाती है और इसे सकारात्मक में बदल देती है।

घर में फिश एक्वेरियम रखने के लिए वास्तु दिशानिर्देश:

  • ध्यान रखें कि एक्वेरियम में मछलियां स्वस्थ हों।
  • वास्तु का सुझाव है कि मछली के मछलीघर में नौ मछलियों की संख्या को नौ पर रखना। एक्वेरियम में 8 मछलियां लाल-सुनहरी और 1 मछली काले रंग की होनी चाहिए।
  • मछली की टंकी में स्वर्ण के साथ-साथ ड्रैगन मछलियाँ रखना भी शुभ माना जाता है।
  • यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि केवल एक विशेष व्यक्ति को प्रतिदिन मछलियों को खिलाना चाहिए।
  • सुबह उठने के बाद परिवार के सभी सदस्यों को सबसे पहले एक्वेरियम में रखी मछलियों को देखना चाहिए। इससे पॉज़िटिव एनर्जी मिलती है और दिनभर के कामों में सफलता मिलती है।
  • एक्वेरियम को कभी भी बेडरूम या किचन में नहीं रखना चाहिए। इससे घर की सम्पति और बिज़नेस को नुकसान पहुंचता है।
  • एक्वेरियम को पूर्व, उत्तर या उत्तर-पूर्व दिशा में रखना चाहिए। घर के सदस्यों में आपसी प्यार बनाए रखने के लिए इसे मेन गेट की बाएं ओर रखे।
  • बच्चों में अच्छे संस्कार, पढाई व करियर में सुधार के लिए एक्वेरियम को घर की पूर्वोत्तर दिशा में रखना चाहिए। यहां रखा एक्वेरियम बच्चों के लिए फायदेमंद होता है।

 

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।

Categories