• [EDITED BY : News Desk] PUBLISH DATE: ; 18 July, 2019 02:15 PM | Total Read Count 1059
  • Tweet
फैटी लिवर : लक्षण , कारण और उपचार

लिवर हमारे शरीर का एक मुख्य आंतरिक अंग होता है, जो शरीर की सबसे बड़ी ग्रंथि और दूसरा सबसे बड़ा अंग होता है। इसका काम हर एक चीज जो हम खाते या पीते हैं को प्रोसेस करने का होता है, साथ ही ये कई तरह के हानिकारक पदार्थों को हमारे खून से फ़िल्टर करता है। हम जो भी भोजन करते हैं उससे कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, फैट, विटामिन और मिनरल्स जैसे पोषक तत्वों को प्रोसेस करने का काम लिवर ही करता है। अगर लिवर ठीक से काम ना करे तो शरीर का मेटाबोलिक बैलेंस भी गड़बड़ हो जाता है। एक सामान्य लिवर में कुछ फैट ज़रूर होता है, लेकिन कभी-कभी लिवर की कोशिकाओं में अनावश्यक फैट की मात्रा बढ़ जाती है। यह एक गंभीर रोग होता है जिसे आम तौर पर फैटी लिवर के नाम से जाना जाता है।

फैटी लिवर विकार मुख्य रूप से दो प्रकार के होते हैं - एल्कोहल फैटी लिवर और गैर एल्कोहल फैटी लिवर। अनुचित आहार के साथ साथ नियमित और अधिक मात्रा में शराब पीना, मोटापा आदि भी फैटी लिवर के लिए कारण हो सकते हैं। यह बीमारी आनुवांशिक (पारिवारिक) भी हो सकती है।

फैटी लिवर के लक्षण

एनएएफएलडी में शराब पीने वालों के मुकाबले लक्षण बहुत कम या होते ही नहीं हैं। मरीज सिर्फ थकान, पेट के ऊपरी हिस्से में हल्की सी तकलीफ और कुछ मामलों में हल्की पीलिया होने के लक्षणों की शिकायत करता है। प्रारंभिक अवस्था में इसमें कोई खास लक्षण उत्पन्न नहीं होते हैं। कभी-कभी पेट की दाहिनी ओर हल्का दर्द महसूस होता है, जो लीवर में फैट की वृद्धि के कारण उत्पन्न होता है। बाद में यह बढ़ते हुए लीवर सिरोसिस की स्थिति उत्पन्न कर देता है, जिसे फूले हुए पेट, त्वचा में खुजलाहट, उल्टी, मांस-पेशियों में कमजोरी और आंखों में उत्पन्न पीलेपन से पहचाना जा सकता है। पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द, बदहवासी और वजन तेजी से कम होना आदि लक्षण भी हो सकते हैं।

खास तौर पर फैटी लिवर की शुरूआत के दौरान अक्सर इसके लक्षण देखने को नहीं मिलते। लेकिन जब यह अधिक बढ़ जाता है, तब धीरे-धीरे इसके लक्षण उभरने लगते हैं। इसमें कुछ लोग थकान, मतली, पेट दर्द, शरीर के वजन में कमी, भूख में कमी और कन्फ्यूजन (भ्रम) जैसे लक्षणों का सामना करते हैं। पेट में लगातार दर्द होना रोजाना की समस्या बन जाती है। इन लक्षणों को विशेष रूप से विकार नहीं बताया जाता है, इसलिए आपको अपने डॉक्टर से परामर्श लेने और इसका ठीक से इलाज कराने की आवश्यकता है। फैटी लिवर का आमतौर पर 40-60 की उम्र के बाद पता चलता है। यह हालत इतनी गंभीर नहीं है लेकिन इसका समय पर पता ना लगना और इलाज ना होना लिवर को नुकसान पहुंचा सकता है जिसे सिरोसिस कहा जाता है। इससे पीलिया जैसी अन्य बीमारियां हो सकती हैं। आपका लिवर सूजन से ग्रस्त हो सकता है। लिवर की अत्यधिक सूजन और क्षति लिवर के कार्य को प्रभावित कर सकती है।

फैटी लिवर के बचाव

  • शराब का सेवन ना करें
  • डायबिटीज ना हो तो बहुत अच्छा लेकिन अगर है तो इसमें जरा भी लापरवाही ना बरतें
  • कोलेस्ट्रॉल होने पर भी उसका सही इलाज कराएं
  • नियमित व्यायाम और प्राणायाम आदि करें
  • अपना बॉडी मास इंडेक्स (BMI) सही रखें
  • लाइफ-स्टाइल में बदलाव करें

फैटी लिवर के उपचार

  • अल्कोहल का सेवन कम या बंद करना
  • अपने कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल करना
  • चीनी और सैचुरेटेड फैटी एसिड का सेवन कम करना
  • शारीरिक श्रम करना और वजन घटना
  • ब्लड सुगर को नियंत्रित करना
  • ताजे फल व सब्जियां खाना
  • रेड मीट की जगह चिकन या फिश खाना

फैटी लिवर के घरेलू उपचार

  • फैटी लीवर से छुटकारा पाने में ग्रीन टी बड़े पैमाने पर असर करता है। बेहतर परिणाम के लिए ग्रीन टी को रोजमर्रा के आहार में शामिल करें और इसके एंटी-आक्सीडेंट गुण का लाभ उठाएं।
  • विटामिन सी युक्ट साइट्रस जूस फैटी लीवर का एक अचूक घरेलू उपचार है। अगर आप अच्छा परिणाम चाहते हैं तो खाली पेट में संतरे और नींबू का जूस पीएं।
  • करेले का स्वाद भले ही कड़वा हो पर यह फैटी लीवर पर साकारात्मक असर डालता है।
  • साबुत अनाज फाइबर और दूसरे पौष्टिक तत्‍वों से भरपूर है, यह आसानी से पच भी जाता है। फैटी एसिड की यह औषधि लीवर के नुकसानदायक टॉक्सिन को तोड़ती है।
  • फैटी लीवर की समस्‍या से ग्रस्त हैं तो कच्चा टमाटर खाना आपके लिए बहुत फायदेमंद होगा।

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।

Categories