• [WRITTEN BY : News Desk] PUBLISH DATE: ; 14 August, 2019 07:12 AM | Total Read Count 208
  • Tweet
शाह, डोवाल पर मोदी की उदारता!

प्रधानमंत्री के रूप में नरेंद्र मोदी के पहले कार्यकाल में इस बात की बड़ी चर्चा हुई कि वे अपने सहयोगियों को श्रेय नहीं देते हैं। यह भी कहा गया कि सारे अहम काम वे और उनका कार्यालय करते हैं, यहां तक कि मंत्रालयों को भी उसमें शामिल नहीं किया जाता है। शौचालय से लेकर नोटबंदी और स्पेस में दुश्मन देश के मिसाइल को मार गिराने की क्षमता हासिल करने जैसे तमाम छोटे बड़े फैसलों की घोषणा उन्होंने खुद की। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की बजाय तमाम कूटनीतिक फैसले और घोषणाएं करते वे दिखे थे। रक्षा मंत्री की बजाय राफेल समझौता करने वे खुद पेरिस गए थे। पर इस बार उन्होंने कमाल की उदारता दिखाई है। भाजपा के अपने इतिहास के सबसे अहम फैसले यानी अनुच्छेद 370 को हटाने की घोषणा भी उन्होंने नहीं की।

प्रधानमंत्री ने कैबिनेट बैठक की अध्यक्षता की, जिसमें अनुच्छेद 370 के बारे में फैसला किया गया। पर इसकी घोषणा राज्यसभा में अमित शाह ने की। दोनों सदनों में इस पर चर्चा और इसे पास कराने की प्रक्रिया में सिर्फ अमित शाह दिखे। खुद मोदी ने सदन में पीठ थपथपा कर शाह को इसका श्रेय दिया। उसके बाद उन्होंने देश के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोवाल को भी इसका श्रेय लेने दिया। डोवाल ने कश्मीर जाकर डेरा डाला और सड़क पर लोगों से मिलते-जुलते दिखे और सड़क किनारे खड़े होकर खाना खाने का उनका वीडियो वायरल हुआ। एक तरह से कश्मीर मसले पर शाह के बाद डोवाल ही इस सरकार का चेहरा माने जा रहे हैं। सुरक्षा हालात की समीक्षा से लेकर जमीनी हालात के ठीक होने का संदेश देने के लिए उनके चेहरे का इस्तेमाल हो रहा है। 

 

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।

Categories