• [EDITED BY : News Desk] PUBLISH DATE: ; 12 July, 2019 07:27 PM | Total Read Count 61
  • Tweet
अयोध्या में कोई मस्जिद नहीं बनवा सकता: वेदांती

लखनऊ। राम जन्म भूमि न्यास के कार्यकारी अध्यक्ष रामविलास वेदांती ने शुक्रवार को कहा कि अयोध्या में जहां राम लला विराजमान हैं, वहां दुनिया की कोई भी ताकत मस्जिद नहीं बनवा सकती।

वेदांती ने यहां संवाददाताओं से कहा, 'अयोध्या में जहां राम लला विराजमान हैं, वहां दुनिया की कोई भी ताकत अब मस्जिद का निर्माण नहीं करा सकती।' जब यह पूछा गया कि यह धमकी है या सुझाव तो वेदांती बोले, 'चाहे धमकी समझिये या सुझाव, किसी कीमत पर कोई भी, जहां राम लला विराजमान हैं, वहां मस्जिद का निर्माण नहीं करा सकता।' उन्होंने कहा कि कुछ कट्टरपंथी मुसलमानों को छोड़कर सभी मुसलमान भी चाहते हैं कि राम जन्मभूमि पर रामलला का मंदिर बने।

वेदांती ने कहा कि पाकिस्तान नहीं चाहता कि हमारे देश में शांति और सांप्रदायिक सद्भाव रहे। उन्होंने कहा कि शिया वक्फ बोर्ड पहले ही इच्छा जता चुका है कि अयोध्या में मंदिर और लखनऊ के शिया बहुल इलाके में मस्जिद बनवा दी जाए।  उन्होंने कहा कि अयोध्या में जो कुछ है सब राम के नाम पर है और पूरे अयोध्या में बाबर के नाम का ना तो कोई मोहल्ला है ना गली है ना वार्ड। उन्होंने कहा, मैं सुन्नी वक़्फ़ बोर्ड से कहना चाहता हूं कि जहां पर रामलला विराजमान हैं, वहां मंदिर का निर्माण होना चाहिए, भारत में सद्भावना शांति और सांप्रदायिक सदभाव बना रहे, इसके लिए मुसलमानों को आगे आकर कहना चाहिए कि हिंदू अपना मंदिर अयोध्या में निर्माण कराएं।

वेदांती बोले, 'बड़े अफसोस की बात है कि जिस देश में बहुतायत में हिंदू हैं, वहां के लोग मंदिर बनाने के लिए सुप्रीम कोर्ट में मुकदमा लड़ रहे हैं । देश के मुसलमानों को कहना चाहिए कि जो भी मंदिर तोड़ा गया है, उसे दोबारा बनना चाहिए । देश का कोई भी हिंदू यह नहीं कहता कि मक्का और मदीना में मंदिर है । देश के मुसलमानों को भी अयोध्या में मंदिर बनवाने के लिए आगे आना चाहिए।

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।

Categories