मुगलों और अंग्रेजों के नाम वाली सड़कें देशभक्तों के नाम पर बदल दी जाए : अखाड़ा

प्रयागराज | उत्तर प्रदेश में अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद (ABAP) ने ऐसीसड़कों के नाम बदलने की मांग की है, जिनके नाम मुगलों और अंग्रेजों के नाम पर रखे गए हैं। परिषद के प्रमुख महंत नरेंद्र गिरि ने कहा, भारत को 74 साल पहले आजादी मिली थी लेकिन दिल्ली में अभी तक सड़कों के नाम मुगल आक्रमणकारियों तुगलक, हुमायूं, बाबर और अंग्रेजों के कई अफसरों के नाम पर हैं। इन सड़कों के नाम चंद्र शेखर आजाद, सुभाष चंद्र बोस, पूर्व गृहमंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल, पूर्व कार्यवाह​क प्रधानमंत्री गुलजारी लाल नंदा और परमवीर अब्दुल हमीद के नाम पर रखे जाने चाहिए। Chhatisgarh Naxal Atteck : नक्सली हमले में 24 जवान हुए शहीद, 31 घायल, तीन साल में 137 जवान शहीद उन्होंने आगे कहा, देश को लूटने और विभाजित करने वाले मुगल आक्रांताओं और अंग्रेजों के नाम पर अब भी सड़कों के नाम क्यों होने चाहिए? ऐसी स्थिति से अधिकांश देशवासी और विशेष रूप से युवा खुद को शर्मिन्दा महसूस करते हैं। इन सड़कों के नामकरण उन शहीदों के नाम पर होने चाहिए जिन्होंने अपना जीवन देश के लिए अर्पित कर दिया। हमारी मांग है कि केंद्र सरकार को इन सड़कों के नाम बदलकर हमारे स्वतंत्रता सेनानियों और शहीदों के नाम पर… Continue reading मुगलों और अंग्रेजों के नाम वाली सड़कें देशभक्तों के नाम पर बदल दी जाए : अखाड़ा

प्रो खान के खिलाफ छात्रों का प्रदर्शन दुर्भाग्यपूर्ण : गिरी

साधु संतो की जानी मानी संस्था अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेन्द्र गिरी ने काशी हिंदू विश्वविद्यालय के संस्कृत संकाय में प्रोफेसर फिरोज खान के खिलाफ छात्रों के विरोध प्रदर्शन को दुर्भाग्यपूर्ण बताया।

और लोड करें