क्या कोरोना की पहली और दूसरी लहर से हम कुछ सीख पाये हैं.. तीसरी लहर भी 6 से 8 हफ्तों में आने की संभावना -डॉ रणदीप गुलेरिया

नई दिल्ली |  भारत में हाल ही में कोरोना की दूसरी लहर के मामलों में गिरावट होनी शुरु हुई है। सरकारों ने अनलॉक की प्रक्रिया शुरु कर दी है। लेकिन जैसे ही बाजार खुले है लोगों ने बाजारों में भीड़ लगानी शुरु कर दी है। बाजार की कुछ तस्वीरें वायरल हो रही है जिसमें लोग बिना मास्क, सामाजिक दूरी के बाजारों में बीड़ लगा रहे है। कोरोना की दूसरी लहर से हम पूरी तरह से उबरे भी नहीं है कि अगले 6-8 हफ्तों में कोरोना वायरस की तीसरी लहर दस्तक दे सकती है। यह आशंका एम्स के निदेशक डॉक्टर रणदीप गुलेरिया ने व्यक्त की है। डॉक्टर रणदीप गुलेरिया ने यह भी संकेत दिए है कि तीसरी लहर से बचा नहीं जा सकता है। जब दूसरी लहर का प्रकोप चल रहा था उस समय ही कुछ एक्सपर्ट्स ने तीसरी लहर की चेतावनी ज़ारी कर दी थी। लापरवाही के चलते तीसरी लहर जल्द आएगी हाल ही में डॉ. रणदीप गुलेरिया ने एनडीटीवी से बातचीत में कहा कि राज्य सरकारों ने लॉकडाउन में छूट देनी शुरु कर दी है। बाजारों में फिर से भीड़ बढ़ने लगी है। ऐसा लग नहीं रहा है कि कोरोना की दूसरी लहर हमें अभी बर्बाद करके गुज़री है।… Continue reading क्या कोरोना की पहली और दूसरी लहर से हम कुछ सीख पाये हैं.. तीसरी लहर भी 6 से 8 हफ्तों में आने की संभावना -डॉ रणदीप गुलेरिया

ये अनलॉक की शुरूआत है या कोरोना की तीसरी लहर का स्वागत-दिल्ली हाइकोर्ट

दिल्ली |  कोरोना की दूसरी लहर के मामलों में अब गिरावट होने लगी है। और सरकारों ने धीरे-धीरे अनलॉक की प्रक्रिया भी शुरु कर दी है। लेकिन छूट के साथ ही बाजारों में भीड़ बढ़ने लगी है। कुछ बाजारों की तस्वीरें वायरल हो रही है जिसमें लोग बिना मास्क के दिखाई दे रही है। कोरोना नियमों का उल्लंघन किया जा रहा है। दिल्ली हाईकोर्ट ने शुक्रवार को इस मामले का संज्ञान लिया। दिल्ली हाईकोर्ट ने कहा कि इस तरह की लापरवाही तीसरी लहर का आगमन बन सकती है। जिसकी अनुमति नहीं दी जा सकती है। हाईकोर्ट ने केंद्र और दिल्ली सरकार को इस संबंध में सचेत किया है। इस मामले में सख्त कदम उठाने को कहा है। कहा है कि आप सुनिश्चित करें कि कोई भी कोविड-19 प्रोटोकॉल का उल्लंघन ना करें। इस संबंध में दुकानदारों को जागरूक करें और बाजारों और विक्रेता संघों के साथ बैठक करें।  इस तरह की लापरवाही तीसरी लहर का कारण बन सकती है।   also read: Baba Ka Dhaba : बाबा का ढाबा संचालक कांता प्रसाद ने किया आत्महत्या का प्रयास, अस्पताल में भर्ती एम्स के डॉक्टर द्वारा भेजी गई तस्वीरें जस्टिस नवीन चावला और जस्टिस आशा मेनन की अवकाश पीठ ने एम्स के एक… Continue reading ये अनलॉक की शुरूआत है या कोरोना की तीसरी लहर का स्वागत-दिल्ली हाइकोर्ट

पर्यटन स्थल पर लौटेगी रौनक, 3 महीने बाद खोल दी गई अजंता-एलोरा की गुफाएं

औरंगाबाद |  कोरोना के मामलों में लगातार गिरावट देखने को मिल रही है। राज्य सरकारें भी अनलॉक की प्रक्रिया में छूट दे रही है। अब धीरे-धीरे पर्यटन स्थल भी खुलने लगे है। महाराष्ट्र में कोरोना नियंत्रण होने के बाद एक अधिकारी ने बुधवार को यह जानकारी दी कि आज यानी 17 जून से अजंता-एलोरा की गुफाएं समेत तीन अन्य ऐतिहासिक स्थल पर्यटकों के लिए खोल दिए जाएंगे। एतिहासिक स्थल पिछले तीन माह से कोरोना के कारण बंद है। औरंगाबाद को महाराष्ट्र का पर्यटन राजधानी कहा जाता है लेकिन कोरोना महामारी की वजह से औरंगाबाद के सभी पर्यटन स्थल बंद थे। also read: उत्तराखंड में गुलज़ार होने लगे धार्मिक स्थल, नैनीताल में खुले मां नयना देवी के कपाट लॉकडाउन के कारण दो वक्त की रोटी भी नसीब नहीं औरंगाबाद के पर्यटन स्थल खुलने के निर्णय के बाद छोटे कारोबारियों का कहना है कि वह लॉकडाउन से पहले रोजाना 500 से 800 रुपये का धंधा कर लेते थे, लेकिन लॉकडाउन के बाद से ही यह लोग दो वक्त के रोजी-रोटी के मोहताज हो गए हैं। पर्यटन स्थल के खुले रहने से कई लोगों के घर चलते थे। बहुत से लोगों का रोजी-रोटी का यही एकमात्र साधन था। गाइड, आस-पास छोटी दुकानें चलाने वाले,… Continue reading पर्यटन स्थल पर लौटेगी रौनक, 3 महीने बाद खोल दी गई अजंता-एलोरा की गुफाएं

Rajasthan Unlock: राजस्थान में एक माह बाद शुरु होने जा रही रोडवेज की सुविधा, आज शाम रोडवेज प्रबंधक जारी कर सकते है निर्देश

Jaipur: राजस्थान में कोरोना के मामलों में गिरावट होनी शुरु हो गई हैं। इसके साथ आज से अनलॉक की भी शुरुआत हो चुकी है। धीरे-धीरे सरकार अनलॉक करेगी उसके बाद यह परखा जाएगा कि कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी तो नहीं हो रही है। इसलिए हमें सतर्क रहना है इस बार हमें लापरवाह नहीं होना है। हमारी लापरवाही के कारण फिर से हम घरों में कैद हो सकते है और तीसरी लहर के आगमन का कारण भी बन सकते है। धीरे-धीरे जनजीवन भी पटरी पर आने की कोशिश कर रहा है। 10 जून से सार्वजनिक परिवहन का संचालन भी किया जाएगा जिसमें से रोडवेज भी शामिल है। 10 जून से रोडवेज अपने बेड़े की करीब 50 प्रतिशत बसों से संचालन शुरू कर सकता है। इसे लेकर मुख्यालय स्तर पर मंथन जारी है। आज देर शाम तक रोडवेज प्रबंधन इसे लेकर दिशा निर्देश जारी कर सकता है। राजस्थान सरकार ने कुछ चीजों में छूट का प्रावधान किया है। लेकिन यह छूट सभी चीजों में नहीं मिलेगी। इसलिए जब तक जरूरी ना हो घर से ना निकले। also read: Rajasthan : पीएम मोदी के फ्री वैक्सीनेशन के एलान के बाद भाजपा विधायक ने सीएम गहलोत से मांगे 600 करोड़ बसों के रूटस पर… Continue reading Rajasthan Unlock: राजस्थान में एक माह बाद शुरु होने जा रही रोडवेज की सुविधा, आज शाम रोडवेज प्रबंधक जारी कर सकते है निर्देश

कोरोना का सबसे खराब महीना मई, एक महीने में दुनिया की सर्वाधिक मौतें भारत में..

DELHI: पिछले डेढ़ वर्ष से कोरोना भारत में तबाही मचा रहा है। हालत इतनी खराब हो गई कि एक दिन में 4 लाख मामले दर्ज होने लगे जो अभी तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है। 54 दिन बाद मंगलवार को पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के सबसे कम 1,27,510 नए मामले दर्ज किए गए हैं। यह पिछले 54 दिनों में सबसे कम आंकड़ा है। कोरोना संक्रमण ने मई महीने में लाखों जिंदगिया लील गया है। ऐसे-ऐसे मंजर दिखाये है जिसकी हमने कभी कल्पना भी नहीं की थी। जिनकी भयावहता याद कर आज भी रूह कांप जाती है। लेकिन अब कोरोना के मामले कम होने लगे है। मौतों का आंकड़ा भी धीरे-धीरे घटने लगा है। कोरोना की यह रफ्तार मई महीने में सर्वाधिक रही है। मई में भारत में किसी भी महीने में दुनिया के किसी भी देश से सर्वाधिक कोरोना केस और मौतें दर्ज की गई हैं। इसके साथ ही जबसे कोरोना महामारी की शुरुआत हुई है तबसे मई ही एक ऐसा महीना रहा, जिसमें सर्वाधिक मौतें हुई और सर्वाधिक केस दर्ज किए गए। कोरोना के आंकडे कम होते ही राज्य सरकार ने अनलॉक की प्रक्रिया शुरु कर दी है। लेकिन हमें यह ध्यान रखना है कि कोरोना का संक्रमण… Continue reading कोरोना का सबसे खराब महीना मई, एक महीने में दुनिया की सर्वाधिक मौतें भारत में..

Work From Home से बोर हो गये हैं तो करिए वर्क फ्रॉम हॉटल

New Delhi | कोरोना संक्रमण से बचने के लिए लोगों ने वर्क फ्रॉम हॉम का रास्ता अपनाया था। लेकिन अब लोगों को घर से काम करते हुए बहुत समय हो गया है इससे लोग मानसिक तनाव का शिकार हो रहे है। लोग घर से कहीं बाहर जाना चाहते है। कुछ लोग ऐसा कर भी रहे है। भारत में फिलहाल कुछ राज्यों में लॉकडाउन लगा हुआ है। हालंकि 1जून से अनलॉक की प्रक्रिया शुरु होने जा रही है। ऐसे में लोग वर्क फ्रॉम हॉम की जगह वर्क फ्रॉम हॉटल का रूख अपना रहे है। इसे भी पढ़ें World No Tobacco Day 2021: ये टिप्स अपनाकर परिवार वालों और दोस्तों को स्मोकिंग करने से रोकें.. टूरिज्म इंडस्ट्री पर भी कोरोना की मार कोरोना के कारण सभी कारोबार प्रभावित हुए हैं। ऐसा कोई नहीं है जिस पर कोरोना ने प्रभाव ना डाला हो। इसमें टूरिज्म इंडस्ट्री बुरी तरह से प्रभावित हुई है। पिछले साल भी कोरोना के कारण टूरिज्म के लिए लोग नहीं आए और इस साल भी कोरोना के कारण पर्यटन के लिए लोग बाहर नहीं निकल रहे हैं। पिछले डेढ़ साल से लोग घर पर ही बैठे है कोरोना ने लोगों के राजगार छीन लिए है। इससे लोगों के पास इतनी आमदनी… Continue reading Work From Home से बोर हो गये हैं तो करिए वर्क फ्रॉम हॉटल

unlock rajasthan: 1 जून से अनलॉक होने जा रहा राजस्थान लेकिन तीसरी लहर से बचने के लिए रहना होगा ज्यादा सावधान

RAJASTHAN: पूरे देश के साथ राजस्थान में कोरोना के मामले कम होने शुरु हो गए है। इसी के साथ जिन राज्यों में लॉकडाउन लगा रखा था उनमें धीरे-धीरे अनलॉक की प्रक्रिया भी शुरु होने जा रही है। दिल्ली में आज से अनलॉक की प्रक्रिया शुरु हो चुकी है। राजस्थान, मध्यप्रदेश सहित कई राज्य में अनलॉक की प्रक्रिया 1 जून से शुरु होगी। पिछले लॉकडाउन में जब पुरे देश को अनलॉक किया गया तो हम सभी इतने बेपरवाह हो गये थे निडर होकर जीने लगे थे। ये सोच बैठे कोरोना रूपी राक्षस कभी वापिस नहीं आएगा। लेकन हमारी लापरवाही के कारण कोरोना वायरस वापिस लौटा और दोगुनी ताकत के साथ। भारत में कोरोना की दूसरी लहर ने ऐसे-ऐसे भयावह मंजर दिखाये जिसकी हमने कभी कल्पना भी नहीं की थी। इस बार जब अनलॉक की प्रक्रिया शुरु हो रही है तो हमें सतर्क होना पड़ेगा। इस बार हमारी लापरवाही कोरोना की तीसरी लहर का आगमन बनेगी। जब तक कोरोना के मामले ना के बराबर नहीं होते हमें डबल मास्क के साथ सामाजिक दूरी का पालन करना होगा। अनलॉक के साथ हमें सावधान और सतर्क रहना होगा। जैसे-जैसे कोरोना संक्रमण के मामले कम होने लगे है वैस-वैसे अनलॉक की प्रक्रिया शुरु होगी। लॉकडाउन… Continue reading unlock rajasthan: 1 जून से अनलॉक होने जा रहा राजस्थान लेकिन तीसरी लहर से बचने के लिए रहना होगा ज्यादा सावधान

UNLOCK DELHI: मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का ऐलान,31 मई से दिल्ली होगा अनलॉक, आइये जानते है क्या रहेगी पाबंदिया

delhi: भारत कोरोना वायरस की दूसरी लहर से जूझ रहा है जो अत्यंत भयावह है लेकिन राहत की खबर ये है कि इन दिनों कोरोना वायरस के मामलों में गिरावट आई है। लगभग सबी राज्यों की सरकारों ने लॉकडाउन लगा रखा था जैसे-जैसे कोरोना के मामले कम होने लगे वैसे-वैसे सभी राज्य अनलॉक की प्रक्रिया शुरु करने जा रहे है। आज दोपहर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर ये ऐलान किया कि 31 मई से दिल्ली में अनलॉक की प्रक्रिया शुरु होगी। सोमवार सुबह 5 बजे तक लॉकडाउन रहेगा उसके बाद धीरे-धीरे अनलॉक की प्रक्रिया शुरु की जाएगी। सोमवार सुबह 5 बजे के बाद से कंस्ट्रक्शन का काम शुरू किया जा सकता है। फैक्ट्रियां भी खोली जाएंगी। इसे भी पढ़ें RBI बंद करेगी 2000 के नोट, सिस्टम से निकालने की ये है योजना सीएम केजरीवाल ने क्या कहा Press conference में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को कहा कि पिछले 24 घंटों में करीब 1100 नए कोरोना के मामले आए हैं। दिल्ली में संक्रमण का दर 1.5 फीसदी के करीब है। ऐसे में अब समय आ गया है कि अनलॉक किया जाए। उन्होंने कहा कि सोमवार की सुबह 5 बजे तक दिल्ली में लॉकडाउन है। उसके बाद… Continue reading UNLOCK DELHI: मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का ऐलान,31 मई से दिल्ली होगा अनलॉक, आइये जानते है क्या रहेगी पाबंदिया

महाराष्ट्र : कोरोना से उबरने के बाद महाराष्ट्र में 1 जून से शुरु होगी अनलॉक की प्रक्रिया, ये होगी शुरुआती छूट

पूरे देश से कोरोना के मामले कम होने की खबर सामने आ रही है। देश में कोरोना का पीक जा चुका है। कोरोना के मामले कम हुए है खत्म नहीं। इसलिए खतरा अभी टला नहीं है तो हमें सावधानियां पूरी रखनी होगी। कोरोना से उभरने के बाद महाराष्ट्र में अनलॉक की प्रक्रिया शुरु होने जा रही है। यह प्रक्रिया 1जून से शुरु होगी। अब यहां Covid-19 मामलों की संख्‍या में कमी आ रही है। इसे देखते हुए उम्‍मीद की जा रही है कि महाराष्ट्र को कोविड प्रतिबंधों के मामले में जल्‍द ही कुछ राहत मिल सकती है। जानकारी के मुताबिक मामलों की घटती संख्‍या को देखते हुए राज्य में लॉकडाउन को हटाने के बारे में फैसला लिया जा सकता है। हालांकि कुछ प्रतिबंध लॉकडाउन खुलने के बाद भी जारी रहेंगे। महाराष्ट्र कोरोना का गढ़ बना हुआ था। सोमवार को राज्य में 22 हजार 122 नए मरीज मिले जो पिछले 70 दिनों में सबसे कम है। महाराष्ट्र में कोरोना के मामलों में गिरावट आने शुरु हो गई है। इसे भी पढ़ें We Salute You: शाम के 7 बजे पता चल गया की नहीं रही मां इसके बाद भी रातभर ड्यूटी करने के बाद ही पहुंचे घर ऐसे शुरु होगी अनलॉक की प्रक्रिया… Continue reading महाराष्ट्र : कोरोना से उबरने के बाद महाराष्ट्र में 1 जून से शुरु होगी अनलॉक की प्रक्रिया, ये होगी शुरुआती छूट

लॉकडाउन ही भारत का अकेला तरीका!

हां, इसके अलावा भारत के पास दूसरा कोई तरीका नहीं है। लेकिन इस तरीके से भारत में संक्रमण कभी खत्म नहीं होगा। वायरस दबेगा, रूकेगा मगर मरेगा नहीं। तभी भारत लगातार (सन् 2022-23 में भी) सौ जूते-सौ प्याज खाने, बेइंतहां रोगी-बेइंतहां मौतों का वैश्विक रिकार्ड बनाएगा। भूल जाएं कि भारत में संक्रमण खत्म करने का फिलहाल कोई औजार है। भारत देश के पास वायरस पूर्व के सहज जीवन में लौटाने का न तरीका है, न साधन है और न समझ। बस, बार-बार लॉकडाउन और बार-बार अनलॉक में ही 140 करोड़ लोगों को सन् 2021, सन् 2022-23 के अगले दो-ढाई साल काटने हैं। दुनिया में सबके बाद (यहां अर्थ विकसित-बड़े-प्रमुख विकासशील देशों का) भारत सामान्य होगा। तब तक सांस बनवाए रखने का एकमेव तरीका बार-बार लॉकडाउन है। हमें जान लेना चाहिए कि कोविड-19 वायरस को बेकाबू होने से तभी रोका जा सकता है जब लोगों की आवाजाही, मेल-मुलाकात पर ताला लगे। लोगों का परस्पर संपर्क न्यूनतम हो। सब लोग घर में बैठें। वायरस को घर-घर ताला मिलेगा तभी संक्रमण थमेगा व मरीज और मौत संख्या घटेगी। यह भी पढ़ें: मेरे तो गिरधर गोपाल (मोदी), दूसरा न कोई! जाहिर है लॉकडाउन से भारत में वायरस वैसे खत्म नहीं हो सकता है जैसे… Continue reading लॉकडाउन ही भारत का अकेला तरीका!

विमानन क्षेत्र पर दिखा Corona का असर, हवाई यात्रियों की संख्या में आई गिरावट

नई दिल्ली | कोरोना (Corona) की बढ़ती दूसरी लहर का असर अब विमानन क्षेत्र (Aviation Sector) पर दिखना शुरू हो गया है और अनलॉक (unlock) के बाद पहली बार मार्च में घरेलू मार्गों पर हवाई यात्रियों (Air travelers on domestic routes) की संख्या में गिरावट दर्ज की गई है। नागर विमानन महानिदेशालय (DGCA) के ताजा आंकड़ों के अनुसार, मार्च 2021 में उड़ानों में खाली सीटों की संख्या बढ़ गई है। इससे देश में हवाई यात्रियों की संख्या एक माह पूर्व की तुलना में घटकर 78 लाख 22 हजार रह गई। फरवरी में घरेलू मार्गों (domestic routes) पर 78 लाख 27 हजार यात्रियों ने सफर किया था। इसे भी पढ़ें – Coronavirus मामलों में वृद्धि के कारण पुडुचेरी में 23 अप्रैल से 26 अप्रैल तक Lockdown पिछले साल कोरोना (Corona) की पहली लहर के समय दो महीने तक नियमित उड़ानें पूरी तरह बंद रहने के बाद यह पहला मौका है जब माह दर माह आधार पर हवाई यात्रियों की संख्या कम हुई है। यह तब हुआ है जब उड़ानों में कोई कटौती नहीं की गई है। इससे पहले अनलॉक शुरू होने के बाद से यात्रियों की संख्या हर महीने बढ़ रही थी। पिछले साल 25 मई से नियमित घरेलू उड़ानें दुबारा शुरू… Continue reading विमानन क्षेत्र पर दिखा Corona का असर, हवाई यात्रियों की संख्या में आई गिरावट

मांग जोर पकड़ने से इस्पात की कीमतों में उछाल

चरणबद्ध तरीके से हो रहे अनलॉक के दौरान धीरे-धीरे पटरी पर लौट रही आर्थिक गतिविधियों के बीच इस्पात की बढ़ती मांग से इसकी कीमतों में 2,000 रुपये प्रति टन का उछाल आया है।

15 अक्टूबर से खुलेगे सिनेमा हॉल

कोरोना वायरस के संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच केंद्र सरकार ने अनलॉक के पांचवें चरण के दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं। केंद्र सरकार ने बुधवार को जारी दिशा-निर्देशों में 15 अक्टूबर से सिनेमा हॉल और मल्टीप्लेक्स खोलने की मंजूरी दे दी है।

कोरोना को खत्म दिखाने की हड़बड़ी!

केंद्र सरकार किसी तरह से यह दिखाने की बेचैनी में है कि कोरोना वायरस अब खत्म होने वाला या खत्म हो गया, लोगों को इससे डरने की जरूरत नहीं है। यह बिल्कुल 360 डिग्री का टर्न कह सकते हैं।

लॉक डाउन से अधिक अनलॉक में सतर्कता जरूरी: मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि कोरोना को हराने के साथ साथ अर्थव्यवस्था को मजबूत करना है और इस क्रम में लॉकडाउन से अधिक अनलॉक में सतर्कता बरतना जरूरी है।

और लोड करें