झूठ में जीना, झूठ में मरना!

भारत ने यों 1947 से ही झूठ में जीना अपनाया हुआ है लेकिन पिछली 15 अगस्त से इस 15 अगस्त का सबसे बडा  अनुभव बतौर कौम झूठ में जीना और झूठ में मरने का है। सौ टका झूठ और दुनिया के नंबर एक झूठे। इसका प्रमाण, अनुभव है 2020-21 की महामारी।

जीने की आजादी मतलब पांच किलो अनाज

भारत का संविधान हर नागरिक को सम्मान के साथ जीने की आजादी देता है। लेकिन आजादी के 75 साल बाद सम्मान से जीने के अधिकार को इस देश ने पांच किलो अनाज की खैरात पर जीने में बदल दिया है।

अमृत महोत्सव के साल में जहर!

देश आजादी का अमृत महोत्सव मनाने जा रहा है। यह अमृत महोत्सव पूरे साल चलेगा। केंद्र और राज्यों की सरकारों ने इसके लिए 18 सौ कार्यक्रम बनाए हैं। राष्ट्रगान के लिए संस्कृति मंत्रालय ने एक वेबसाइट बनाई है, लोगों से अपील की जा रही है कि वे राष्ट्रगान गाकर उसकी वीडियो अपलोड करें।

नेहरू भी याद आए मोदी को!

अगले साल देश की आजादी के 75 साल पूरे होने के समारोहों की शुरुआत हो गई है। शुक्रवार को आजादी के अमृत महोत्सव की शुरुआत हुई। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू भी याद आए।

आजादी के अमृत महोत्सव का राज्यपाल ने किया शुभारंभ कहा, स्वतंत्रता संग्राम में भाग लेने वालों का जन उत्सव

  Jaipur: आजादी के अमृत महोत्सव (Amrit Mahotsav) का शुभारंभ आज राज्यपाल कलराज मिश्र (Governor Kalraj Mishra) ने किया. इस मौके पर जवाहर कला केंद्र  (Jawahar Kala Kendra )में आजादी के अमृत महोत्सव के अंतर्गत प्रादेशिक लोक संपर्क ब्यूरो द्वारा चित्र प्रदर्शनी (Picture Exhibition) ‘आजादी@75’  आयोजित की जा रही है. साथ ही,  राजस्थान के कला संस्कृति विभाग द्वारा खादी ग्रामोद्योग आयोग के सहयोग से आयोजित ‘खादी चरखा प्रदर्शनी’ का उद्घाटन किय गया.  प्रर्दशनी का उद्घाटन करते हुए राज्यपाल ने  कहा कि आजादी का अमृत महोत्सव भारतीय स्वतंत्रता संग्राम से जुड़े हमारे गौरव का गान है.  उन्होंने देश को आजाद कराने वाले स्वाधीनता सेनानियों का स्मरण करते हुए कहा कि यह महोत्सव देश को आजाद कराने के उनके संकल्पों का जन उत्सव है. महान व्यक्तित्वों का स्मरण जगाता है अनूठा जोश श्री मिश्र ने प्रदर्शनी में 1857 की क्रान्ति से लेकर 15 अगस्त 1947 को स्वतंत्रता प्राप्ति तक की महत्वपूर्ण घटनाओं से संबंधित जानकारियों एवं चित्रों का अवलोकन भी किया. इसके साथ ही एक साथ आजादी के संघर्ष की संजोयी चित्र गौरवगाथा की सराहना की.  उन्होंने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, नेताजी सुभाष चंद्र बोस एवं सरदार वल्लभभाई पटेल के योगदान एवं उनके जीवन से जुड़ी घटनाओं पर आधारित विशेष पैनोरमा ‘आजादी के… Continue reading आजादी के अमृत महोत्सव का राज्यपाल ने किया शुभारंभ कहा, स्वतंत्रता संग्राम में भाग लेने वालों का जन उत्सव

उत्तर प्रदेश में मोदी कल करेंगे अमृत महोत्सव’ का शुभारम्भ करेंगे

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आजादी की 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा‘आजादी का अमृत महोत्सव’ मनाने का निर्णय लिया गया है।

और लोड करें