• डाउनलोड ऐप
Wednesday, May 12, 2021
No menu items!
spot_img

अयोध्या

प्रसिद्ध गायक सोनू निगम ने मुख्यमंत्री योगी से की भेंट

सुप्रसिद्ध गायक सोनू निगम ने सोमवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से उनके सरकारी आवास पर भेंट की। इस दौरान योगी आदित्यनाथ ने सोनू निगम को अयोध्या में मंदिर

अयोध्या में राम मंदिर के नींव का निर्माण शुरू

अयोध्या के राम जन्मभूमि में रामलला के गर्भ गृह स्थल पर आज से नींव के निर्माण का कार्य शुरू कर दिया गया । वैदिक आचार्य द्वारा कार्य प्रारम्भ से पूर्व पूजन-अर्चन किया गया।

राम मंदिर और मुसलमान

अयोध्या के राम मंदिर और मस्जिद का मामला शांतिपूर्वक हल हो रहा है, यह भारत के हिंदुओं और मुसलमानों दोनों की उदारता और सहिष्णुता का प्रमाण है। इससे भी बड़ी बात यह है कि कुछ मुसलमान संस्थाएं और सज्जन राम मंदिर निर्माण में उत्साहपूर्वक सहयोग कर रहे हैं।

अयोध्या में जल्द शुरू हो सकता है मस्जिद निर्माण

श्रीराम जन्मभूमि और बाबरी मस्जिद विवाद के बाद उच्चतम न्यायालय के निर्देश पर अयोध्या के रौनाही में मिली पांच एकड़ जमीन पर मुस्लिम पक्षकार जल्द ही मस्जिद निर्माण का कार्य शुरू कर सकते है।

अक्षय कुमार को अयोध्या में ‘रामसेतु’ की शूटिंग करने की अनुमति मिली

अभिनेता अक्षय कुमार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से अनुमति मिलने के बाद अपनी अगली फिल्म 'रामसेतु' की शूटिंग अयोध्या में करेंगे।

देव दीपावली में 15 लाख दीयों से रोशन होंगे काशी के घाट

अयोध्या दीपोत्सव के बाद काशी की विश्व प्रसिद्ध देव दीपावली को योगी सरकार भव्यता के साथ मनाने जा रही है। देव दीपावली पर पिछले साल काशी के घाटों को दस लाख दीयों

कृष्ण जन्मभूमि मामला मंजूर

राम जन्मभूमि का विवाद सर्वोच्च अदालत से सुलझने के बाद अब कृष्ण जन्मभूमि का मामला अदालत में पहुंच गया है। मथुरा की जिला अदालत ने शुक्रवार को श्रीकृष्ण जन्मभूमि विवाद पर श्रीकृष्ण विराजमान की याचिका मंजूर कर ली।

अयोध्या और सांप्रदायिक सौहार्द का सवाल

गत तीस सितंबर को अयोध्या विध्वंस मामले में लखनऊ की विशेष सीबीआई अदालत का निर्णय आया। न्यायालय ने छह दिसंबर 1992 को विवादित ढांचा गिराए जाने को पूर्व निर्धारित आपराधिक षड़यंत्र मानने से इंकार करते हुए सभी 49 (जीवित 32) आरोपियों को दोषमुक्त कर दिया।

अयोध्या का श्रेय अकेले मोदी को!

अब अयोध्या आंदोलन की विरासत का क्या होगा? यह आंदोलन इतिहास में किस रूप में दर्ज होगा? इसका जवाब यह है कि बाबरी मस्जिद के विवादित ढांचे को तोड़े जाने के मामले में लखनऊ में सीबीआई की विशेष अदालत के फैसले के बाद अब इस आंदोलन की स्मृतियां धीरे धीरे लोगों के जेहन से खत्म हो जाएंगी।

अब अपील करके भी क्या मिलेगा?

कांग्रेस और दूसरी विपक्षी पार्टियों ने सीबीआई से कहा है कि वह लखनऊ की विशेष अदालत के फैसले को हाई कोर्ट नें चुनौती दे। बाबरी मस्जिद एक्शन कमेटी के जफरयाब जिलानी ने भी सीबीआई से अपील की है कि वह ऊपर की अदालत में अपील करे।
- Advertisement -spot_img

Latest News

कांग्रेस के प्रति शिव सेना का सद्भाव

भारत की राजनीति में अक्सर दिलचस्प चीजें देखने को मिलती रहती हैं। महाराष्ट्र की महा विकास अघाड़ी सरकार में...
- Advertisement -spot_img