Rajasthan Cabinet Reshuffle को लेकर ये नई बात आई सामने, पायलट खेमे के कई विधायकों को मिल सकता है मंत्री पद

मंत्रिमंडल विस्तार में सचिन पायलट के 5 से 6 विधायकों को मंत्री बनाया जा सकता है। बता दें कि, सचिन पायलट ने भी संगठन महासचिव केसी वेणु गोपाल से मुलाकात की थी।

Rajasthan CM अशोक गहलोत के OSD फोन टैपिंग मामले में दिल्ली तलब, क्राइम ब्रांच करेगी पूछताछ

दिल्ली क्राइम ब्रांच ने फोन टैपिंग मामले में लोकेश शर्मा को एक बार फिर से नोटिस भेजा है। जिसके अनुसार उन्हें 12 नवंबर को जांच अधिकारी के सामने पेश होने को कहा है।

दिवाली से पहले Ashok Gehlot सरकार ने कर्मचारियों की भरी झोली, मिलेगा बोनस, DA भी बढ़ाया गया

राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार ने दिवाली से पहले राज्य के सभी सरकारी कर्मचारियों को दोहरी सौगात दी है। राज्य की गहलोत सरकार ने कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में 3 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ-साथ बोनस देने …

Rajasthan सीएम Ashok Gehlot आज जा रहे दिल्ली, सियासी संग्राम के बीच मंत्रिमंडल फेरबदल पर होगी Sonia Gandhi से मुलाकात!

सीएम Gehlot दिल्ली पहुंचे के बाद राजस्थान में मंत्रिमंडल फेरबदल और राजनीतिक नियुक्तियों को लेकर चर्चा होने वाली है।

Rajasthan : पड़ोसी राज्यों में जारी उठा-पटक के बीच सीएम गहलोत का बड़ा बयान, कहा- यहां 5 साल चलेगी सरकार और अगली बार…

कैप्टन और सिद्धू की ही तरह पायलट और गहलोत विवाद किसी से भी छिपी नहीं है. लेकिन इन विवादों को गलत…

Rajasthan में Punjab वाला सियासी खेला! हो सकता है कुछ भी, Rahul-Priyanka से मिले Sachin Pilot, आज कांग्रेस की अहम बैठक

राजस्थान की राजनीति में भी भूचाल आ सकता है। क्योंकि, सचिन पायलट (Sachin Pilot) समर्थकों के मुख्यमंत्री बदलने की मांग के बाद अशोक गहलोत गुट भी सक्रिय हो गया हैं।

Rajasthan : सतीश पूनिया ने कहा- कैप्टन के इस्तीफे के बाद गहलोत को अपने भविष्य की चिंता…

राहुल एक्शन के मूड में हैं. हालांकि सीएम बनने की चाह रखने वाले नवजोत सिंह सिद्धू के लिए कांग्रेस आलाकमान का ये फैसला चौंकाने वाला रहा है. पंजाब के साथ ही राजस्थान में भी हालात…

Rajasthan Panchayati Raj Elections Result 2021 : कांग्रेस ने बनाई BJP पर बढ़त, बेनीवाल की RLP ने 5 सीटों पर जमाया कब्जा

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के गृह जिले जोधपुर में पंचायत समिति की कुल 387 सीटों में से 159 सीटों के परिणाम जारी हो चुके हैं और इनमें 84 सीटों पर कांग्रेस ने जीत की मुहर लगा दी है।

पार्टी नहीं संभल रही देश क्या संभालेंगे ! राजस्थान, पंजाब और अब छत्तीसगढ़ में गुटबाजी के आगे आलाकमान नजर आता है फेल…

ज्यादातर राजनीतिक जानकारों का कहना है कि इसमें भारतीय जनता पार्टी से ज्यादा योगदान कांग्रेस का रहा है. यह बात बहुत हद तक सही भी है क्योंकि जिन तीन राज्यों में कांग्रेस अपने दम पर सरकार में है वहां के

कार्ति, दीपेंद्र और पायलट को क्या मिलेगा?

पिछले दिनों कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने विदेश जाने से पहले कार्ति चिदंबरम, दीपेंद्र हुड्डा और सचिन पायलट से मुलाकात या बात की थी।

Rajasthan का सियासी खेलाः कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक भंवरलाल शर्मा बोले- मैं भी बनना चाहता था सीएम, लेकिन गहलोत ने नहीं दिया साथ!

जयपुर । Rajasthan Political Drama : राजस्थान में चल रहे सियासी ‘खेला’ में हर रोज कुछ न कुछ नया खेला देखने को मिल रहा है। इस सियासी लड़ाई में कई विधायक अपने मन की बात कह चुके हैं। ऐसे अब कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं चूरू के सरदार शहर से विधायक पंडित भंवरलाल शर्मा (Bhanwar Lal Sharma) ने भी अपने मन की बात लोगों के सामने रखी है। उन्होंने सचिन पायलट (Sachin Pilot) पर मीठी छुरी चलाते हुए कहा कि, मैंने भी कभी सरकार गिराने की कोशिश की थी, लेकिन अशोक गहलोत ने मेरा साथ नहीं दिया। वरना मैं भी मुख्यमंत्री होता। मुझे उस बात का मलाल आज भी है। कई बार इच्छा का दमन करना पड़ता है। इसी के साथ भंवरलाल शर्मा ने ये भी कहा कि, अब दो महीने तक सीएम किसी से मिलने वाले नहीं हैं। ऐसे में मंत्रिमंडल विस्तार भी नहीं होगा। ये भी पढ़ें:- Rajasthan : ATS ने पाक के लिए जासूसी करने के आरोप में जैसलमेर से एक युवक को किया गिरफ्तार, हनीट्रैप से जुड़ा है मामला सीएम गहलोत के प्रति वफादारी या फिर पायलट पर वार विधायक भंवरलाल शर्मा ने राजधानी जयपुर में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करके सीएम गहलोत के प्रति अपनी वफादारी और… Continue reading Rajasthan का सियासी खेलाः कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक भंवरलाल शर्मा बोले- मैं भी बनना चाहता था सीएम, लेकिन गहलोत ने नहीं दिया साथ!

सचिन पायलट के बयान ने राजस्थान में एक बा​र फिर से राजनीतिक फिजाओं में गरमाहट घोली

सचिन पायलट ने साफ तौर पर कहा है कि आलाकमान की ओर से बनाया गया पैनल उनके मुद्दों का समाधान करने में विफल रहा है। पायलट ने हिंदुस्तान टाइम्स को दिए इंटरव्यू में कहा है कि कांग्रेस आलाकमान उनसे किए गए वादों को पूरा करने में विफल रहा है। नई दिल्ली | राजस्थान में राजनीतिक संकट (Political Crisis in Rajasthan) का मुद्दा एक बार फिर से गरमा सकता है। यदि पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट (Congress Leader Sachin Pilot) के हिन्दुस्तान टाइम्स में दिए बयान ने राजस्थान की राजनीतिक फिजाओं में गरमाहट घोल दी है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Chief Minister Ashok Gehlot) की सरकार का संकट एक बार फिर से खड़ा हो सकता है। राजनीतिक चर्चाओं का नया दौर शुरू हेमाराम चौधरी के इस्तीफे और पायलट खेमे के कई विधायकों की बयानबाजी के बाद अब पायलट के इस कमेंट ने राजस्थान में राजनीतिक चर्चाओं का नया दौर शुरू कर दिया है। राजस्थान में मंत्रीमंडल विस्तार में पायलट रिक्त पदों पर अपने साथियों को अधिकाधिक देखना चाहते हैं। जबकि गहलोत की पसंद बसपा से दल बदलकर आए और निर्दलीय विधायक हैं। ये वही लोग है, जिन्होंने फ्लोर टेस्ट के दौरान गहलोत की सरकार बचाई थी। Vaccine Politics : महाराष्ट्र सरकार के… Continue reading सचिन पायलट के बयान ने राजस्थान में एक बा​र फिर से राजनीतिक फिजाओं में गरमाहट घोली

भरतपुर राज परिवार | पिता विश्वेन्द्र सिंह और पुत्र अनिरुद्ध में सियासती जंग निजी लड़ाई के रूप में बदली

अब तक मौजूदा राजनीति में पार्टियों से कई बार बागी हुए विश्वेन्द्रसिंह के बेटे अनिरुद्ध खुद अपने पिता से बगावत कर बैठे हैं। उन्होंने एक ट्वीट करके राजस्थान की राजनीति में भूचाल ला दिया और कहा कि…

राहुल गांधी होते कौन हैं मना करने वाले?

कांग्रेस का अध्यक्ष पद संभालने की लियाक़त रखने वाले कई चेहरे हैं। प्रियंका गांधी हैं। कमलनाथ हैं। पी. चिदंबरम हैं। मल्लिकार्जुन खड़गे हैं। दिग्विजय सिंह हैं। अशोक गहलोत हैं। उम्र पर न जाएं तो शिवराज पाटिल हैं, सुशील कुमार शिंदे हैं और आप को नागवार न गुज़रें तो आनंद शर्मा, मुकुल वासनिक, शशि थरूर भी हैं। राहुल-सोनिया जिसके लिए इशारा कर देंगे, वह मुखिया हो जाएगा। लेकिन अगर मोशा-भाजपा को वनवास देना है तो अंततः राहुल को ही आगे आना होगा। नरेंद्र भाई का विकल्प राहुल और प्रियंका में से ही कोई हो सकता है। राहुल को यह समझना होगा कि कांग्रेस का अध्यक्ष पद छोड़ कर उन्होंने पार्टी का कितना बड़ा नुक़सान किया है? उन्हें यह भी समझना होगा कि यह ज़िम्मेदारी संभालने में देरी कर के अब वे पूरे विपक्ष का कितना बड़ा नुक़सान कर रहे हैं? आज अगर समूचे विपक्ष की कोई सकल-शक़्ल नहीं बन पा रही है तो इसलिए कि कांग्रेस अंतरिम-नेतृत्व के सहारे चल रही है। कल राजीव गांधी की शहादत के तीस साल पूरे हो गए और मैं सोचता रहा कि आज अगर वे होते तो, भले ही अब 77 साल के होते, मगर उनके होते, और कुछ भी होता, कांग्रेस का यह हाल… Continue reading राहुल गांधी होते कौन हैं मना करने वाले?

मोदी ने चार राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बात की

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस की स्थिति को लेकर रविवार को चार राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बात की।  इससे पहले भी वे 15 राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बात कर चुके हैं। प्रधानमंत्री ने रविवार को राजस्थान, छत्तीसगढ़, उत्तर प्रदेश और पुड्डुचेरी के मुख्यमंत्रियों से बात की और उनके साथ कोविड स्थिति पर चर्चा की। ध्यान रहे तीन राज्यों- राजस्थान, छत्तीसगढ़ और उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस की स्थिति भयावह हो गई थी। हालांकि अब हालात धीरे धीरे काबू में आ रहे हैं। रविवार को प्रधानमंत्री से बातचीत के बाद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ट्विट भी किया। उन्होंने लिखा- पीएम नरेंद्र मोदी ने आज उत्तर प्रदेश में कोविड की स्थिति के साथ कोविड प्रबंधन और वैक्सीनेशन के बारे में बातचीत की। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में कोरोना प्रबंधन प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन में सफलतापूर्वक आगे बढ़ रहा है। उनके मार्गदर्शन से ही बेड की उपलब्धता, ऑक्सीजन की आपूर्ति, हर एक व्यक्ति को नि:शुल्क वैक्सीनेशन और जरूरतमंद को बेहतर उपचार प्राप्त हुआ है। प्रधानमंत्री मोदी ने छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के साथ कोविड पर विस्तार से चर्चा की। चर्चा के दौरान मुख्यमंत्री ने बताया कहा कि राज्य में टेस्टिंग बढ़ा दी गई है। उन्होंने कहा… Continue reading मोदी ने चार राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बात की

और लोड करें