आइए, इस युवा डॉक्टर को मेरे साथ अपने भावों की सलामी दीजिए

पूरे दो साल उनका इलाज चला। उन्हें हर रोज़ 120 इंजेक्शन दिए जाते थे। रोज़ाना 32 एंटीबॉयोटिक गोलियां खानी पड़ती थीं। सब मिला कर 14 हज़ार से ज़्यादा एंटीबॉयोटिक गोलियां डॉ. लुबाना ने खाईं। दवाओं की इस असाधारण मात्रा की वज़ह से कई साइड इफ़ेक्ट होने लगे। …डॉ. लुबाना ने हिम्मत नहीं हारी। अपनी बीमारी से जूझते रहे और पिछले चार-पांच महीने से अपने मरीज़ों के लिए दिन-रात एक कर रहे हैं। ज़िंदगी भर के तमाम अच्छे-बुरे अनुभव यादों की तराज़ू के एक पलड़े में और सियासत, शासन, प्रशासन और नागरिकों की सकल-ग़लतियों की वज़ह से आई कोरोना महामारी की ऐसी खूंखार दूसरी लहर के दौरान हुए अहसास का वज़न दूसरे पलड़े में। जनम भर के पलड़े पर इन तीन-चार महीनों का पलड़ा, भारी नहीं, बहुत भारी पड़ रहा है। ईश्वर की कृपा से मैं और मेरा एकल-परिवार तो महफ़ूज़ है, मगर कुटुंबियों, नाते-रिश्तेदारों और मित्र-परिचितों के किस्से सुन-सुन हाल बेहाल है। असमर्थता, क्षोभ, गुस्से और अवसाद के इन मटमैले बादलों के बीच से झांकती एक देवदूत-शख़्सियत का ज़िक्र किए बिना रह नहीं पा रहा हूं। ऐसे कई और भी होंगे, जिनके समक्ष मन-ही-मन नमन-मुद्रा अख़्तियार करने में भीतरी सुकून का झरना आपके भीतर भी फूटे बिना नहीं रहेगा। अब… Continue reading आइए, इस युवा डॉक्टर को मेरे साथ अपने भावों की सलामी दीजिए

Corona: इंदौर में मरीज को बिस्तर नहीं मिलने पर परिजनों ने किया हंगामा, अस्पताल में की तोड़-फोड़

इंदौर। कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच मध्यप्रदेश के इंदौर Indore में कोरोना के मरीज को बिस्तर नहीं मिलने पर आक्रोशित उसके परिजनों ने यहां सोमवार देर रात एक निजी अस्पताल (Private Hospital) में जमकर हंगामा किया और तोड़-फोड़ की। चश्मदीदों ने बताया कि यह घटना पलासिया क्षेत्र के ग्रेटर कैलाश हॉस्पिटल में सामने आई। अस्पताल (Hospital) के संचालक अनिल बंडी (Anil Bundy) ने आज बताया, हमारे स्टाफ ने मरीज के परिजनों से कहा कि बिस्तर (Bed) खाली नहीं होने के चलते हम फिलहाल उसे भर्ती नहीं कर सकते। इस बात पर मरीज के परिजनों ने हमारे स्टाफ से विवाद करते हुए मेज की वे पारदर्शी शीट तोड़ दीं जो कोविड-19 (Covid-19) से बचाव के लिए लगाई गई थीं। इसे भी पढ़ें – चैत्र नवरात्र 2021: मां दुर्गा का प्रथम स्वरूप भगवान शंकर की अर्द्धांगिनी क्यों कहलाती है शैलपुत्री उन्होंने बताया कि ग्रेटर कैलाश हॉस्पिटल (Greater Kailash Hospital) में कोरोना के मरीजों के लिए कुल 90 बिस्तर हैं जो पहले ही भर चुके हैं। बिस्तर (Bed) नहीं मिलने पर मरीज के परिजनों ने जिस ग्रेटर कैलाश हॉस्पिटल (Greater Kailash Hospital) में तोड़-फोड़ की, वह पलासिया पुलिस थाने से चंद कदमों की दूरी पर है। थाने के प्रभारी संजय बैस ने बताया… Continue reading Corona: इंदौर में मरीज को बिस्तर नहीं मिलने पर परिजनों ने किया हंगामा, अस्पताल में की तोड़-फोड़

कोविड-19: भोपाल-इंदौर में नाइट कर्फ्यू आज से

मध्य प्रदेश के कई हिस्सों में कोरोना का संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। सबसे ज्यादा मामले भोपाल-इंदौर में सामने आ रहे है और यही कारण है कि इन दोनों प्रमुख शहरों में आज रात से नाईट कर्फ्यू

नाइट कर्फ्यू की तरफ बढ़ता इंदौर व भोपाल

मध्य प्रदेश में एक बार फिर कोरोना संक्रमितों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है और सबसे ज्यादा मरीज इंदौर व भोपाल में सामने आ रहे है।

इंदौर मुझमें रहता है

मुझे गर्व है कि इंदौर को लगातार चौथी बार भारत का सबसे स्वच्छ शहर घोषित किया गया है। मुझे दिल्ली में बसे 55 साल हो गए लेकिन इंदौर में जन्म के बाद जो 21 साल कटे, वे अद्भुत थे।

शिवराज आज इंदौर के दौरे पर

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आज इंदौर जा रहे है। इंदौर राज्य में सबसे ज्यादा कोरोना संक्रमित है। चौहान का यह पहला इंदौर दौरा है।

लंदन से 93 यात्रियों को लेकर विशेष विमान इंदौर पहुंचा

कोरोना महामारी के कारण दूसरे देशों में फंसे भारतीयों को देश वापस लाने के लिए केंद्र सरकार ने वंदे भारत मिशन चलाया जा रहा है। इस अभियान के तहत रविवार को एयर

बैल बनकर बैलगाड़ी खींचने को मजबूर

कोरोना महामारी की रोकथाम के लिए उठाए गए एहतियाती कदमों के कारण काम धंधे बंद है और लोग घरों को लौटने के लिए बेताब है।

पीक आएगा तो कितने मामले होंगे

कोरोना वायरस से लड़ने की रणनीति बना रहे लोगों को अंदाजा हो गया है कि अभी भारत में इस वायरस का संक्रमण बढ़ेगा और जून-जुलाई तक पीक आएगा। हालांकि यह भी अधूरी बात है क्योंकि जून-जुलाई तक पीक उन जगहों पर आएगा, जहां अभी ढेर सारे मामले आ रहे हैं।

प्याज के ट्रक में मजदूरों का सफर

कोरोना महामारी की रोकथाम के लिए उठाए गए सख्त कदमों के चलते बड़ी संख्या में मजदूर विभिन्न स्थानों पर फंसे हुए हैं। ऐसे ही कुछ मजदूरों ने इंदौर से प्याज के ट्रक

इंदौर में उबर की एंबुलेस सेवा को मंजूरी

कोरोना महामारी की रोकथाम के लिए उठाए गए एहतियाती कदमों के चलते तमाम निजी परिवहन सेवाओं को बंद कर किया गया है। इंदौर में अब आपातकालीन सेवा के लिए उबर इमरजेंसी

भीलवाड़ा मॉडल और “आईआईटीटी फॉर्मूले से जीतेंगे इंदौर में कोविड-19 की जंग: मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का कहना है कि कोरोना वायरस संक्रमण से बुरी तरह प्रभावित इंदौर शहर में भीलवाड़ा मॉडल और “आईआईटीटी” फॉर्मूले के तहत जांच व रोकथाम के उपाय किये जा रहे हैं

इंदौर में कोरोना मरीजों की संख्या हजार पार

मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों की संख्या में बढ़ोत्तरी जारी है। इंदौर में कोरोना मरीजों का आंकड़ा एक हजार को पार कर गया है।

इंदौर में कोरोना मरीजों की संख्या 945 हुई

मध्य प्रदेश के इंदौर में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में बढ़ोत्तरी का सिलसिला जारी है। यहां 30 मरीजों के नमूनों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

मप्र में कोरोना के 8 नए मामले, कुल संख्या 923

मध्यप्रदेश के इंदौर जिले में ‘कोविड 19’ संक्रमण के 8 नए मामले सामने आने के बाद यहाँ कोरोना वायरस रोगियों का आंकड़ा 923 तक जा पहुंचा है।

और लोड करें